"राजपुताना": अवतरणों में अंतर

702 बाइट्स हटाए गए ,  1 वर्ष पहले
गलत जानकारी को सही किया हमने
[अनिरीक्षित अवतरण][अनिरीक्षित अवतरण]
(राजपूतो का उदय 12वी शताब्दी के उपरांत हुआ था)
टैग: Reverted यथादृश्य संपादिका मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
(गलत जानकारी को सही किया हमने)
टैग: Reverted यथादृश्य संपादिका मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
[[चित्र: 1909.jpg|thumb|right|250px| [[राजस्थान]] पहले राज्य/क्षेत्र/प्रदेश के रूप में जाना जाता था। 1909 का ब्रिटिशकालीन नक्शा ]]
[[चित्र:Map rajasthan dist all shaded.png|thumb|right|250px|मौजूदा [[राजस्थान]] के ज़िलों का मानचित्र]]
'''राज्य/क्षेत्र/प्रदेश''' जिसे '''राजस्थान''' भी कहा जाता है। राजपूतों राज्य/क्षेत्र/प्रदेश<nowiki>''' जिसे '''राजस्थान'''</nowiki> भी कहा जाता है। मुगल काल से पहले यह क्षेत्र गुर्जराष्ट्रा के नाम से <ins>जाना</ins> <ins>जाता</ins> <ins>था,</ins> <ins>राजपूतो</ins> <ins>की चापलूसी व चाटुकार होने की वजय</ins> <ins>से</ins> राजनीतिक सत्ता आयी तथा ब्रिटिशकाल में यह राज्य/क्षेत्र/प्रदेश नाम से जाने जाना लगा।<ref>John Keay (2001). India: a history. Grove Press. pp. 231–232</ref> इस प्रदेश का आधुनिक नाम [[राजस्थान]] है, जो उत्तर [[भारत]] के पश्चिमी भाग में अरावली की पहाड़ियों के दोनों ओर फैला हुआ है। इसका अधिकांश भाग मरुस्थल है। यहाँ वर्षा अत्यल्प और वह भी विभिन्न क्षेत्रों में असमान रूप से होती है। यह मुख्यत: वर्तमान [[राजस्थान]] राज्य की भूतपूर्व रियासतों का समूह है, जो [[भारत]] का एक महत्त्वपूर्ण हिस्सा है। [[राजपूत]] समाज राजस्थान का एक अहम हिस्सा है और यह गुर्जर व उनके सामयिक राजाओ की मिश्रित जाति है।
 
== भौगोलिक स्थिति ==
गुमनाम सदस्य