"महाप्राण और अल्पप्राण व्यंजन": अवतरणों में अंतर

छो
सम्पादन सारांश नहीं है
(महाप्राण व्यंजन 14 नही, 15 होते है।)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
छोNo edit summary
टैग: यथादृश्य संपादिका मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन उन्नत मोबाइल संपादन
 
जब अल्प प्राण ध्वनियाँ महा प्राण ध्वनियों में परिवर्तित हो जाती है, उसे महाप्रणिकरण कहतें है।
अल्पप्राण व्यंजन
ऐसे व्यंजन जिनको बोलने में कम समय लगता है और बोलते समय मुख से कम वायु निकलती है उन्हें अल्पप्राण व्यंजन (Alppran) कहते हैं। इनकी संख्या 20 होती है।
क ग ङ
च ज ञ
1,209

सम्पादन