"कैथी" के अवतरणों में अंतर

134 बैट्स् जोड़े गए ,  2 माह पहले
Rescuing 0 sources and tagging 2 as dead.) #IABot (v2.0.8.1
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
(Rescuing 0 sources and tagging 2 as dead.) #IABot (v2.0.8.1)
 
{{ब्राम्ही}}
'''कैथी''' एक ऐतिहासिक लिपि है जो मध्यकालीन [[भारत]] में प्रमुख रूप से उत्तर-पूर्व और उत्तर भारत में काफी बृहत रूप से प्रयोग की जाती थी। खासकर आज के [[उत्तर प्रदेश]] एवं [[बिहार]] के क्षेत्रों में इस लिपि में वैधानिक एवं प्रशासनिक कार्य किये जाने के भी प्रमाण पाये जाते हैं
<ref>अंशुमान पांडे. 2006. [http://www-personal.umich.edu/~pandey/kaithi.pdf Proposal to Encode the Kaithi Script in Plane 1 of ISO/IEC 10646]{{Dead link|date=सितंबर 2021 |bot=InternetArchiveBot }}</ref>।। इसे "कयथी" या "कायस्थी", के नाम से भी जाना जाता है। पूर्ववर्ती [[उत्तर-पश्चिम प्रांत]], [[मिथिला]], [[बंगाल]], [[उड़ीसा]] और [[अवध]] में। इसका प्रयोग खासकर न्यायिक, प्रशासनिक एवं निजी आँकड़ों के संग्रहण में किया जाता था।
 
== उत्पत्ति ==
* [https://web.archive.org/web/20120218165811/http://in.jagran.yahoo.com/news/local/bihar/4_4_8908293.html गुमनामी के अंधेरे में गुम हो गई कैथी]
* [https://web.archive.org/web/20180427154648/http://inextlive.jagran.com/kaithi-albhabet-is-in-danger-201203140011 कहीं पन्नों में दफन न हो जाए कैथी]
* [http://www-personal.umich.edu/~pandey/kaithi.pdf Proposal to Encode the Kaithi Script in ISO/IEC 10646]{{Dead link|date=सितंबर 2021 |bot=InternetArchiveBot }}
* [https://web.archive.org/web/20130114140426/http://www.unicode.org/charts/PDF/U11080.pdf कैथी का यूनिकोड] (PDF ; अंग्रेजी में)
* [https://web.archive.org/web/20190822224354/https://satyagrah.scroll.in/article/122159/how-kaithi-have-fallen-out-of-use कभी हिंदी और उर्दू से अधिक उपयोग होने वाली कैथी खत्म कैसे हो गई?]
1,12,344

सम्पादन