"धर्म के लक्षण": अवतरणों में अंतर

छो
पंडित श्री रूद्राक्ष देव पंडित (Talk) के संपादनों को हटाकर Jainashish0013 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया
(मैं धर्म को जानता हूं इसलिए मैं धर्म को मानता भी हूं)
टैग: Reverted मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
छो (पंडित श्री रूद्राक्ष देव पंडित (Talk) के संपादनों को हटाकर Jainashish0013 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: वापस लिया मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन उन्नत मोबाइल संपादन
{{स्रोतहीन|date=मार्च 2015}}
अनंतपंडितश्रीरुद्राक्षदेवपंडितअनंत के अनुसार /धर्म अनंत है धर्म का रूप भी अनंत है इससे यह सिद्ध हो जाता है कि धर्म के लक्षण भी अनंत है
 
== मनुस्मृति ==
[[मनु]] ने धर्म के दस लक्षण गिनाए हैं:
15,892

सम्पादन