"ज़ुहर की नमाज": अवतरणों में अंतर

आकार में कोई परिवर्तन नहीं ,  7 माह पहले
(Reverted to revision 4684180 by Umarkairanvi (talk): Reverted to the best version (TwinkleGlobal))
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना Reverted
टैग: Manual revert मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
 
<nowiki>*</nowiki>2 रकात सुन्नत (मौक़ीदा)
 
<nowiki>*</nowiki>42 रकात [[नफ़्ल नमाज़|नफिल]]
 
सुन्नत मौकीदा : इस्लामिक [[शरीयत]] में, [[सुन्नत]] वह प्रथा है जो पैगंबर या पैगंबर के साथियों ने आम तौर पर और अक्सर की और उसके करने को मना न किया हो। इस का रित्याग का कारण पाप है और परित्याग की आदत अवज्ञा है
1

सम्पादन