"समकालीन चपटी पृथ्वी संस्था" के अवतरणों में अंतर

जानकारी
(श्रेणी)
(जानकारी)
{{Expand English|Modern flat Earth societies|date=अप्रैल 2016}}
'''समकालीन चपटी पृथ्वी संस्था''' एक ऐसी समकालीन संस्था को कहते हैं जो मानती है कि पृथ्वी का आकर चपटा या एक डिस्क के जैसा है। इसका एक उदाहरण 1956 में सैमुएल शैंटन द्वारा स्थापित की गई ''द फ्लैट अर्थ सोसाइटी'' ({{Lang-en|The Flat Earth Society}}) है। सपाट पृथ्वी के विश्वास छद्म विज्ञान हैं;  सिद्धांत और दावे वैज्ञानिक ज्ञान पर आधारित नहीं हैं। चपटी पृथ्वी की वकालत करने वालों को दर्शन और भौतिकी के विशेषज्ञों द्वारा विज्ञान से इनकार करने वालों के रूप में वर्गीकृत किया गया है।<ref>{{Cite web|url=https://physicsworld.com/a/fighting-flat-earth-theory/|title=Fighting flat-Earth theory|date=2020-07-14|website=Physics World|language=en-GB|access-date=2021-11-21}}</ref>
 
आधुनिक युग के समतल पृथ्वी समूह 20वीं शताब्दी के मध्य से हैं;  कुछ अनुयायी गंभीर हैं और कुछ नहीं हैं।  जो लोग गंभीर होते हैं वे अक्सर धर्म या षड्यंत्र के सिद्धांतों से प्रेरित होते हैं। कई विश्वासी अपने विचारों को फैलाने के लिए सोशल मीडिया का उपयोग करते हैं।सोशल मीडिया के उपयोग के माध्यम से, चपटी पृथ्वी सिद्धांतों को बड़े समूहों से असंबद्ध व्यक्तियों द्वारा तेजी से समर्थन और प्रचारित किया जाता है।  
 
== इन्हें भी देखें ==
1,465

सम्पादन