"काला जादू": अवतरणों में अंतर

3,640 बाइट्स जोड़े गए ,  5 माह पहले
सम्पादन सारांश नहीं है
छो (2409:4064:191:1D41:6B53:4715:B82:BBDA (Talk) के संपादनों को हटाकर रोहित साव27 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: वापस लिया
No edit summary
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल एप सम्पादन Android app edit
amrutam
 
कला जादू से बचने का सरल तरीका क्या है?
 
जादू, टोना क्या होता है?...
 
काले जादू से बचाव के उपाय…काले जादू, टोना-टोटका, करा-धरा से बचने के लिए माथे पर महादेव की भस्म का त्रिपुण्ड लगाकर रखें।
शिव पुराण के अनुसार अगर गले में रुद्राक्ष की माला रहती है, तो बहुत, प्रेत, जादू आदि का असर नहीं होता है।
 
जाने 7 बाते कला जादू के बारे में.
 
1. वर्तमान समय में काला जादू करने वाले अब दुनिया में बचे नहीं हैं। इस तरह की तांत्रिक क्रियाओं का मूल जनक स्थान कभही कामाख्या आसाम था। यह से 15 किलोमीटर की दूरी पर एक प्राचीन नवग्रह का मंदिर है, जहां 9 ग्रह शिवलिंग के रूप में स्थापित हैं। जिन्हें स्वयंभू बताते हैं।
 
2. तन्त्र में कभही उच्चाटन, मारन, चेतक विद्या, यक्षिणी, कर्ण पिशाचिनी, भ्रमजाल, इंद्रजाल आदि मारण शक्तियों का बोलबाला था। अब इसके जानकार ज्यादा उपलब्ध नहीं है।
 
3. कालाजादु के अंतर्गत परिवर्तन, बहाली, भ्रम, बुद्धि विनाश, दूर भेजना, बच निकलने, उत्तोलन, भेदन, भविष्यवाणी, कीलित करना आदि कार्य होते हैं।
 
4. बहुत से लोग इस भय-भ्रम में जी रहे हैं कि किसी ने कुछ कर दिया है। मेरी दुकान या कारोबार को बांध दिया है। फिर प्रसन्न है कि क्या लोग काला जादू कर सकते हैं?
 
5. संस्गआर में सब सम्भव है…..यदि ऊर्जा, एनर्जी का सकारात्मक उपयोग है, तो ऐसे ही नकारात्मक इस्तेमाल भी किया जा सकता है।
 
6. चारों वेदों में एक अथर्ववेद सिर्फ सकारात्मक और नकारात्मक चीजों के लिए ऊर्जाओं के इस्तेमाल को ही समर्पित है।
 
7. वैसे ये सब बातें, जादू, टोना आदि चीजें दिमागी रूप से पैदा की गई या मनोवैज्ञानिक व ज़हनी होती हैं। काले जादू का असर थोड़ा बहुत अवश्य होता है।
 
 
 
{{स्रोतहीन|date=मार्च 2021}}
'''काला जादू''' पारम्परिक रूप से [[पराप्राकृतिक]] शक्तियों अथवा दुष्ट शक्तियों की सहायता से अपने स्वार्थी उद्देश्यों को पूर्ण करने के लिए किया जाने वाला एक जादू है।
गुमनाम सदस्य