"वरदराज": अवतरणों में अंतर

283 बाइट्स जोड़े गए ,  12 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश नहीं है
(नया पृष्ठ: '''वरदराज''' संस्कृत व्याकरण के महापण्डित थे। उन्होने [[लघुसिद्ध…)
 
No edit summary
'''वरदराज''' [[संस्कृत]] [[व्याकरण]] के महापण्डित थे। उन्होने [[लघुसिद्धान्तकौमुदी]] तथा [[मध्यसिद्धान्तकौमुदी]] की रचना की। वे महापण्डित भट्टोजिदीक्षित[[भट्टोजि दीक्षित]] के शिष्य थे।
 
==बाहरी कड़ियाँ==
*[*[http://books.google.co.in/books?id=T-evs_ZqvkMC&printsec=frontcover#v=onepage&q=&f=false लघुसिद्धान्तकौमुदी (तिङन्त प्रकरण]] (लेखक - केके आनन्द)
 
[[श्रेणी:संस्कृत]]