"पुरूवास": अवतरणों में अंतर

96 बाइट्स जोड़े गए ,  3 माह पहले
→‎जीवनी: सटीक सुधार किया था
(यदुवंशी कृष्ण के वंशज थे पुरु वंश से संबधित रखते थे)
टैग: Reverted मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
(→‎जीवनी: सटीक सुधार किया था)
टैग: Reverted मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
 
== जीवनी ==
पोरस या पोरोस (ग्रीक Πῶρος, Pôros से), पौरों का राजा था। इनका क्षेत्र हाइडस्पेश (झेलम) और एसीसेंस (चिनाब) के बीच था जो कि अब पंजाब का क्षेत्र है। पोरस ने हाइडस्पेश की लड़ाई में अलेक्जेंडर ग्रेट के साथ लड़ाई की। पोरस का साम्राज्य विशालकाय था। महाराजा पोरस सिन्ध-पंजाब सहित एक बहुत बड़े भू-भाग के स्वामी थे। जो एक यदुवंशीअहीर पोरस का साम्राज्य जेहलम (झेलम) और चिनाब नदियों के बीच स्थित था। उल्लेखनीय है किये इसवीर क्षेत्रअहीर मेंजाति रहनेसे वालेसंबधित खोखरोंरखते नेथे राजपूतइनके सम्राटपूर्वज पृथ्वीराजमहाराजा चौहानपुरु कीवंश हत्यासे काथे बदलाजो लेनेयदुवंशी केचंद्र लिएवंशी [[मोहम्मदअहीर ग़ोरी]]थे कोमहाभारत मौतकाल केसे घाटइनके उतारये दियाराज्य था।करते आए
महाराजा यदु से संबध था
 
‘पोरस अपनी बहादुरी के लिए विख्यात था। उसने उन सभी के समर्थन से अपने साम्राज्य का निर्माण किया था जिन्होंने खुखरायनों पर उसके नेतृत्व को स्वीकार कर लिया था। जब सिकंदर हिन्दुस्तान आया और जेहलम (झेलम) के समीप पोरस के साथ उसका संघर्ष हुआ, तब पोरस को खुखरायनों का भरपूर समर्थन मिला था। इस तरह पोरस, उनका शक्तिशाली नेता बन गया।’ -आईपी आनंद थापर (ए क्रूसेडर्स सेंचुरी : इन परस्यूट ऑफ एथिकल वेल्यूज/केडब्ल्यू प्रकाशन से प्रकाशित)
18

सम्पादन