"कुण्डली": अवतरणों में अंतर

14 बाइट्स हटाए गए ,  3 माह पहले
(→‎जातक के गुण: व्याकरण में सुधार)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल एप सम्पादन Android app edit
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन उन्नत मोबाइल संपादन
जन्म के समय ग्रहों की स्थिति के अनुसार हर जातक की [[कुण्डली]] में निम्नलिखित गुणों का उल्लेख मिलता है:-
 
====[[फलित ज्योतिष#राशि और उनके स्वभाव और स्वामी|राशी स्वामी]]====
[[ग्रह|सूर्य, चंद्र, मंगल, बुद्ध, ब्रहस्पति, शुक्र व शनी]] में से कोई एक।
====[[फलित ज्योतिष#नक्षत्र|नक्षत्र स्वामी]]====
[[ग्रह|सूर्य, चंद्र, मंगल, बुद्ध, ब्रहस्पति, शुक्र व शनी]] में से कोई एक।
====गण====
[[मनुष्य]], [[देव]] व [[राक्षस]] में से कोई एक।
====[[वर्ण (जन्म कुंडली)|वर्ण]]====
[[ब्राह्मण]], [[क्षत्रिय]], [[वैश्य]] व [[शूद्र]] में से कोई एक।<ref name=dastr>[https://www.dainikastrology.com/varna-koota-milaan-in-kundali कुंडली में वर्ण कूट मिलान क्या होता है।] ''Dainik Astrology''.</ref>
====नाडी====
आदि, मध्या, अन्तया में से कोई एक।
====नक्षत्र पाया====
सोना, चांदी, तांबा इत्यादि।
====योनी====
[[व्याघ्र]], [[मूषक]], [[गज]], [[वानर]], [[गाय|गऊ]], [[भैंस|महीश]], [[मृग]], [[श्वान]], [[नकुल]], [[सिंह]], [[अश्व]] इत्यादि।
 
1,039

सम्पादन