"उपभाषा विज्ञान" के अवतरणों में अंतर

86 बैट्स् जोड़े गए ,  11 वर्ष पहले
(नया पृष्ठ: '''उपभाषा विज्ञान''' या '''बोली विज्ञान''' (Dialectology) भाषाविज्ञान की एक है ...)
 
==इतिहास==
बोलियों के ऐसे अध्ययन का सूत्रपात 19वीं शती के पहले चरण में श्मेलर से हुआ था। 1873 में स्कीट ने "इंग्लिश डायलेक्टॉलॉजी सोसायटी" की स्थापना की और एटलस बनाने का भी प्रयास किया। 1876 में जार्ज बेंकर ने 40 वाक्यों की प्रश्नावली को पूरे जर्मन राज्य की 40,000 से भी अधिक स्थानीय बोलियों में रूपांतरित कराया। 1896 से 1908 के बीच एडमंड एडमॉट के सहयोग से गिलेरो ने फ्रांस का महत्वपूर्ण एटलस प्रस्तुत किया। इसी प्रकार स्वाविया और इटली के भी एटलस प्रकाशित हुए। 1939-43 के बीच हंस कुरैथ के निर्देशन में अमरीका और कैनाडा के भाषीय एटलस की पहली किश्त न्यू इंग्लैंड के एटलस के रूप में प्रकाशित हुई। इधर रूस, चीन और जापान में भी इस तरह के प्रयास हो रहे हैं। भारत में इस शती के पहले चरण में किया गया ग्रियर्सन का भाषा सर्वेक्षण अपनी तरह का अकेला प्रयास है।
 
==इन्हें भी देखें==
*[[भाषाविज्ञान]]
 
[[श्रेणी:उपभाषा]]