"मनमोहन सिंह": अवतरणों में अंतर

355 बाइट्स जोड़े गए ,  11 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश नहीं है
छो (robot Adding: pnb:منموہن سنگھ)
No edit summary
|}}
 
'''डा. मनमोहन सिंह''' ([[पंजाबी]]: ਮਨਮੋਹਨ ਸਿੰਘ) [[भारत]] के वर्तमान [[भारत के प्रधानमंत्री|प्रधानमंत्री]] हैं। वे एक कुशल राजनेता के साथ-साथ एक अच्छे विद्वान, अर्थशास्त्री और विचारक भी हैं। एक मंजे हुये [[अर्थशास्त्र|अर्थशास्त्री]] के रुप में उनकी ज्यादा पहचान है। अपने कुशल और ईमानदार छवि की वजह से सभी राजनैतिक दलों में उनकी अच्छी साख है।है, लेकिन [[टूजी स्पेक्ट्रम घोटाला]] में मनमोहन सिंह चुप्पी से उनकी ईमानदार छवि पर सवाल उठ खड़े हुए हैं। [[लोकसभा चुनाव २००९]] में मिली जीत के बाद वे [[जवाहरलाल नेहरू]] के बाद भारत के पहले ऐसे प्रधानमंत्री बन गए हैं जिनको पाँच वर्षों का कार्यकाल सफलता पूर्वक पूरा करने के बाद लगातार दूसरी बार प्रधानमंत्री बनने का अवसर मिला है। उन्होंने [[२१ जून]] [[१९९१]] से [[१६ मई]] [[१९९६]] तक नरसिंह राव के प्रधानमंत्रित्व काल में [[भारत के वित्त मंत्री|वित्त मंत्री]] के रूप में भी कार्य किया है। वित्त मंत्री के रूप में उन्होंने भारत में आर्थिक सुधारों की शुरुआत की। 28 फरवरी को मनमोहन सिंह सउदी अरब की यात्रा पर गए. 1982 के बाद सउदी अरब की यात्रा करने वाले मनमोहन सिंह पहले प्रधानमंत्री बन गए हैं.
 
== जीवनी ==
 
डा. सिंह ने कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय संगठनों में भारत का प्रतिनिधित्व किया है । अपने राजनैतिक जीवन में वे १९९१ से [[राज्य सभा]] के सांसद रहे है । और [[१९९८]] तथा [[२००४]] में संसद में विपक्ष के नेता रह चुके हैं।
==विवाद==
[[टूजी स्पेक्ट्रम घोटाला]] में
 
== यह भी देखें ==
504

सम्पादन