"स्कन्दगुप्त" के अवतरणों में अंतर

22 बैट्स् नीकाले गए ,  9 वर्ष पहले
यह प्राचीन भारत में तीसरी से पाँचवीं सदी तक शासन करने वाले [[गुप्त राजवंश]] का राजा था। इनकी राजधानी पाटलीपुत्र थी जो वर्तमान समय में पटना के रूप में बिहार की राजधानी है।
== साहित्य में स्कंदगुप्त ==
यह हिंदी साहित्य के प्रसिद्ध साहित्यकार जयशंकर प्रसाद द्वारा रचित नाटक स्कंदगुप्त का नायक है। यह एक स्वाभिमानी, नीतिज्ञ, देशप्रेमी, वीर और स्त्रियों के सम्मान की रक्षा करने वाला शासक है। यह स्त्री का रूप धारण कर ध्रुवस्वामिनी के बदले शांती का प्रस्ताव रखने वाले शासक शकराज से द्वंदद्वद्वंद्व युद्ध कर उसे मौत के घाचघाट उतार देता है। इस तरह वह अपने वंश की महारानी ध्रुवस्वामिनी के मर्यादा की रक्षा करता है। बाद में रामगुप्त की हत्यताहत्या के बाद वह ध्रुवस्वामिनी से विवाह भी करता है। शकराज
 
== बाह्य सूत्र ==