"हण्टेरियन लिप्यन्तरण" के अवतरणों में अंतर

[[Image:Huntadapt02.png|thumb|100px|right|हन्टेरियन/जोंसियन-आधारित सन १८९५ का एक संयोजन]]
[[Image:Huntadapt05.png|thumb|100px|right|हलंत दर्शाने के लिए एक छोटे चिन्ह का प्रयोग]]
आशोधित हन्टेरियन लिप्यन्तरण में [[:en:Retroflex consonant|मूर्धन्य]] अक्षरों को दर्शाने के लिए अक्सर लिप्यन्तरित रोमन अक्षर के नीचे नुक्ते का चिन्ह लगाया जाता है।<ref name="ref36foxoj"/><ref name="ref78jiriv">{{Citation | title=A dictionary, Hindustani and English: to which is added a reversed part, English and Hindustani | author=Duncan Forbes | publisher=W.H. Allen, 1848 | isbn= | url=http://books.google.com/books?id=7klIAAAAYAAJ | quote=''... ب ब b ...''}}</ref> संस्कृत के देवनागरी प्रयोग में हर व्यंजन में 'अ' की ध्वनी निहित होती है, लेकिन कईं आधुनिक हिन्द-आर्य भाषाओं में शब्दों के कुछ स्थानों में इस [[:en:Schwa deletion in Indo-Aryan languages|निहित 'अ' की ध्वनी को हटा]] दिया जाता है। जैसे की 'अब' को [[अन्तर्राष्ट्रीय ध्वन्यात्मक वर्णमाला]] में 'əb' पढ़ा जाता है, न कि 'əbə'। हन्टेरियन में अगर कहीं भी निहित 'अ' कि ध्वनी हो तो उसे स्पष्ट रूप से 'a' लिखा जाता है। अगर हलंत हो तो कुछ आशोधित हन्टेरियन विधियों में उसे विराम बिंदु ('.') के प्रयोग से दर्शाया जाता है।
 
{| class="wikitable"