"अली अक़बर ख़ाँ" के अवतरणों में अंतर

3 बैट्स् जोड़े गए ,  14 वर्ष पहले
-->
 
खाँ साहब ने कई शास्त्रीय [[जुगलबंदी|जुगलबंदियों]] में भाग लिया। उसमें सबसे प्रसिद्ध जुगलबंदी उनके समकालीन विद्यार्थी एवं बहनोई [[सितार वादक]] [[रवि शंकर]] एवं [[निखिल बैनर्जी]] के साथ तथा वायलन वादक [[एल सुब्रह्मण्यम भारती]] जी के साथ है। [[विलायत खाँख़ाँ|विलायत ख़ान]] के साथ भी उनकी कुछ रिकार्डिंग उपलब्ध हैं। साथ ही उन्होंने कई पाश्चात्य संगीतकारों के साथ भी काम किया।
 
==सम्मान व पुरस्कार==
28,109

सम्पादन