मादा जन्तु या पादप के जननांग में शुक्राणु (स्पर्म) पहुँचाना वीर्यसेचन कहा जाता है। इसका उद्देश्य लैंगिक प्रजनन द्वारा गर्भधारण कराना होता है।

स्त्री में पुरुष द्वारा वीर्यसेचन

प्रकारसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

इन्हें भी देखेंसंपादित करें