मुख्य मेनू खोलें
गोजर

शतपाद (सेन्टीपीड, गोजर या कांतर या कनखजूरा) एक स्थलवासी आर्थ्रोपोडा है जो जमीन में, बिलों में या पेड़ों की छाल के नीचे छिपे पाये जाते हैं। इसका शरीर लंबा एवं खंडयुक्त होता है तथा सिर पर दो स्पर्श सूत्र पाये जाते हैं। इसके प्रत्येक खंड में दो पैर जुड़े होती हैं जो जोड़ युक्त होते हैं। पहला जोड़ा पैर विषैले पंजों में रूपांतरित हो जाता है। दुनिया में गोजर की लगभग ८००० प्रजातियां हैं। यह प्रसव के पश्चात अपने सारे बच्चों को एक गोल घेरा बनाकर रक्षा करती है.इसके काटने पर हल्दी,काला नमक,देशी गाय के घी को साथ मिलाकर काटे हुए स्थान पर लगाये । कान में घुसने पर काला नमक मिला हुआ पानी कान में डालने से वह तुरंत बाहर आ जाता है। [1]n

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Adis, J. and M.J. Harvey. 2000. How many Arachnida and Myriapoda are there worldwide and in Amazonia? Studies on Neotropical Fauna and Environment, 35: 139-141.

इन्हें भी देखेंसंपादित करें