हिन्दू धर्म और तिब्बती बौद्ध परम्परा में शम्भल (संस्कृत : शम्भलः ; तिब्बती भाषा : བདེ་འབྱུང, Wylie: bde 'byung; चीनी भाषा : 香巴拉; फिनयीन : xiāngbālā) एक पौराणिक नगरी है। इस नगरी की रचना ८४ पंखुड़ियों वाले खिले कमल जैसी है और उसके चारों ओर हिमाच्छादित पर्वत हैं। इसके केन्द्र में शम्भल के राजा का महल है। कुछ ग्रन्थों में शम्भल को 'शांग्री-ला' कहा गया है।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें