शुजी नाकामूरा (जन्म: 22 मई 1954, जापानी: 中村 修二) अमेरिकी वैज्ञानिक और नोबेल पुरस्कार विजेता है। वह नीली प्रकाश उत्सर्जक डायोड का अविष्कार करने के लिये जाने जाते हैं।

शुजी नाकामूरा
जन्म 22 मई 1954 (1954-05-22) (आयु 67)
इकाता एहिमे, जापान
आवास संयुक्त राज्य
नागरिकता जापान (२००० तक)
संयुक्त राज्य (२००० बाद)
राष्ट्रीयता अमेरिकी[1][2]
संस्थान क्यालिफोर्निया बिश्वबिद्यालय
प्रसिद्धि नीला तथा सफेद एलईडी
उल्लेखनीय सम्मान मिलेनियम प्राविधिक पुरस्कार (२००६)
हार्भे पुरस्कार (२००९)
भौतिकी में नोबेल पुरस्कार (२०१४)

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "中村教授「物理学賞での受賞には驚いた」 ノーベル賞". The Nikkei. Nikkei Inc. 2014. मूल से 9 अक्तूबर 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 14 अक्तूबर 2014. नामालूम प्राचल |month= की उपेक्षा की गयी (मदद)
  2. सुजीने २००० में अमेरिकी नागरिकता प्राप्त किया था। जापान दुइपक्षीय नागरिकको मान्यता नही देती हैं।