देश के पांचवे कुंभ के रूप मे "राजिम-कुंभ" को देश के विशिष्ट साधु संतो ने अपनी मान्यता प्रदान की है। यह इस ऎतिहासिक नगरी राजिम का सौभाग्य है। नवापारा नगर मे मां दुर्गा के अनेक मंदिर है। जिनमे लटर्रापारा बजरंग चौक मे स्थित श्री सिंहवासिनी दुर्गा मंदिर उनमे से एक है। बताया जाता है कि लटर्रापारा मे 70-80 वर्ष पुराना श्री हनुमान मंदिर एक छोटे से चबुतरे मे स्थित था। सन 1962 से निरंतर लटर्रापारा मे कवांर नवरात्रि मे सार्वजनिक दुर्गोत्सव समिति का गठन कर मां दुर्गा का आदमकद आकर्षक प्रतिमा स्थापित की जाती है।