संतान-हत्या (अंग्रेज़ी:Filicide) उस अपराध को कहते हैं जिसके अंतरगत माता-पिता जान बूझकर अपनी ही संतान की हत्या करते हैं।

ईवान भयानक और उसकी हत्या षडय्ंत्र का शिकार बेटा, नम्बर 16, 1581, पुत्र-हत्या का चित्र जिसे इलया रेपिन ने उतारा

इतिहाससंपादित करें

1999 में संयुक्त राज्य अमेरिका में किए गए शोध के अनुसार 1976 और 1997 के बीच माएँ बचपन में मरने वाले अधिकांश बच्चों की मृत्यु के ज़िम्मेदार थीं। इसके विपरीत 8 साल या उसके आगे आयु के बच्चों की हत्या के पीछे अधिकतर पिताओं का हाथ रहा है।[1] इसके अतिरिक्त माओं द्वारा हत्या के शिकार (माओं की पुत्र-हत्या) 52% लड़के थे जबकि पिताओं के द्वारा हत्या के शिकार (पिताओं की पुत्र-हत्या) 57% लड़के थे। कुल मिलाकर माँ-बाप पाँच से कम उम्र के 61% बच्चों की हत्या के दोषी पाए गए हैं।[2]

कभी-कभी, इन मामलों में हत्या-आत्महत्या दोनों मामलों की तालमेल पाई जाती है। सरकारी आँकड़ों के अनुसार अमरीका में प्रति वर्ष 450 बच्चों को उनही के माँ-बाप बड़ी ही निर्मम हत्या कर देते हैं।[3]

और देखिएसंपादित करें

पारिवारिक हत्याओं की शब्दावली:

गैर-पारिवारिक हत्याओं की शब्दावली:

इसके अतिरिक्त, बालकों के प्रति क्रूरूरता और बाल-हत्या भी प्रचलित हैं।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Greenfeld, Lawrence A., Snell, Tracy L. (12 फरवरी 1999, updated 10 मार्च 2000). "Women Offenders" (PDF). NCJ 175688. US Department of Justice. मूल (PDF) से 3 जून 2010 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 8 जुलाई 2011. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)सीएस1 रखरखाव: एक से अधिक नाम: authors list (link)
  2. Friedman, S., H., M.D., Horwitz, S., M., Ph.D., and Resnick, P., J., M.D.. (2005). Child murder by mothers: A critical analysis of the current state of knowledge and a research agenda. Am J Psychiatry 162:1578-1587 [1] Archived 2015-06-16 at the Wayback Machine
  3. "USA Today. Parents who do the unthinkable -- kill their children". मूल से 12 जुलाई 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 30 जून 2015.