संदीप सिंह

भारतीय हॉकी खिलाड़ी

संदीप सिंह (जन्म 27 फरबरी 1986[1]) एक मैदानी हॉकी खिलाड़ी और भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान हैं। भारतीय हॉकी के ड्रैग फ्लिकर संदीप को पेनाल्टी कार्नर विशेषज्ञ के रूप मे जाना जाता है। हॉकी में विशेष उपलब्धियों के लिए भारत सरकार ने संदीप को २०१० में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया। वर्तमान मे हरियाणा पुलिस विभाग में डीएसपी रैंक पर कार्यरत हैँ।[2]

संदीप सिंह 2004 में कराची में आयोजित जूनियर एशिया कप में पेनल्टी कॉर्नर लेते हुए।

फिल्म निर्माता शाद अली ने संदीप सिंह के जीवन पर सूरमा नाम की एक फिल्म बनाई है। दिलजीत दोसांझ ने फिल्म में संदीप सिंह की भूमिका निभाई है। इसे 13 जुलाई 2018 को जारी किया गया था। फिल्म में तापसी पन्नू और अंगद बेदी भी हैं।[3]

व्यक्तिगत जीवनसंपादित करें

संदीप सिंह हरियाणा में कुरुक्षेत्र जिले के शाहबाद शहर से हैं। संदीप के बड़े भाई बिक्रमजीत सिंह भी हॉकी खेलते है, बिक्रमजीत इंडियन ऑयल के लिए खेलते हैं।

करियरसंपादित करें

संदीप सिंह ने अंतराष्ट्रीय खेल सफर 2004 में आयोजित कुआलालुम्पुर में अजलान शाह कप से शुरू किया।[1] 2009 में भारतीय हॉकी टीम का कप्तान नियुक्त किया गया, संदीप की कप्तानी में भारत ने अजलान शाह कप २००९ का खिताब जीता। [2] ये भारत की सुलतान अजलान शाह हॉकी में 13 साल बाद पहली जीत थी।

हॉकी इंडिया लीगसंपादित करें

संदीप हीरो हॉकी इंडिया लीग के पहले संस्करण में 11 गोल करके उस संस्करण में सर्वाधिक गोल करने वाले खिलाडी बन गए थे।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "संदीप सिंह". नवभारत टाइम्स. 20 जुलाई 2012. मूल से 4 दिसंबर 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 अक्टूबर 2014.
  2. "हॉकी खिलाड़ी संदीप सिंह ने चुराया सबका दिल". वनइंडिया डॉटकॉम. 27 फरबरी 2014. मूल से 24 अक्तूबर 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 अक्टूबर 2014. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  3. "सूरमा मूवी रिव्यू". मूल से 16 जुलाई 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 16 जुलाई 2018.