मुख्य मेनू खोलें

प्रवेशद्वार : खेल

Icone Sports de raquette.svg
खेल
Shakedown 2008 Figure 1a.jpg
खिलाड़ी
Berliner Olympiastadion night.jpg
मैदान
Photograph of the Olympic flag.jpg
प्रतियोगिताएँ
Speedway Extraliiga 22. 5. 2010 - Joni Keskinen erässä 4.jpg
आँकड़े/सूचियाँ
Darts in a dartboard.jpg
उपकरण
San marcos bullfight 01.jpg
'
WikiProject Council.svg
अन्य परियोजनाएँ
खेल
Sports portal bar icon.png

खेल, कई नियमों एवं रिवाजों द्वारा संचालित होने वाली एक प्रतियोगी गतिविधि है। सामान्यतः खेल को एक संगठित, प्रतिस्पर्धात्मक और प्रशिक्षित शारीरिक गतिविधि के रूप में परिभाषित किया गया है, जिसमें प्रतिबद्धता तथा निष्पक्षता होती है। कुछ देखे जाने वाले खेल इस तरह के गेम से अलग होते है, क्योंकि खेल में उच्च संगठनात्मक स्तर एवं लाभ (जरूरी नहीं कि वह मौद्रिक ही हो) शामिल होता है। उच्चतम स्तर पर अधिकतर खेलों का सही विवरण रखा जाता है और साथ ही उनका अद्यतन भी किया जाता है, जबकि खेल खबरों में विफलताओं और उपलब्धियों की व्यापक रूप से घोषणा की जाती है। "खेल" का अंग्रेजी अर्थ ("स्पोर्ट") शब्द की उत्पत्ति पुराने फ्रेंच के शब्द देस्पोर्ट (desport) से हुई है, जिसका अर्थ "अवकाश" है।

प्राप्त कलाकृतियों और ढांचों से पता चलता है कि चीन के लोग लगभग 4000 ईसा पूर्व से खेल की गतिविधियों में शामिल थे।[1] भारत के प्राचीनतंम ग्रंथ रामायण और महाभारत में चौपड़, द्यूतक्रीड़ा, रथदौड़, निशानेबाजी प्रतियोगिता आदि का उल्लेख मिलता है। मिस्र के अन्य खेलों में भाला फेंक, ऊंची कूद और कुश्ती भी शामिल थी। फारस के प्राचीन खेलों में जौरखानेह (Zourkhaneh) जैसा पारंपरिक ईरानी मार्शल आर्ट का युद्ध कौशल से गहरा संबंध था।[2] प्राचीन यूनानी काल में कई तरह के खेलों की परंपरा स्थापित हो चुकी थी और ग्रीस की सैन्य संस्कृति और खेलों के विकास ने एक दूसरे को काफी प्रभावित किया। खेल उनकी संस्कृति का एक ऐसा प्रमुख अंग बन गया कि यूनान ने ओलिंपिक खेलों का आयोजन किया, जो प्राचीन समय में हर चार साल पर पेलोपोनेसस के एक छोटे से गांव में ओलंपिया नाम से आयोजित किये जाते थे।[3]

खेल भावना एक दृष्टिकोण है, जो ईमानदारी से खेलने, टीम के साथियों और विरोधियों के प्रति शिष्टाचार बरतने, नैतिक व्यवहार और सत्यनिष्ठा दिखाने तथा जीत या हार में बड़प्पन के प्रदर्शन की प्रेरणा देता है।[4] खेल पत्रकार ग्रांटलैंड राइस का प्रसिद्ध कथन है कि "यह अहम नहीं है कि तुम हारे या जीते, अहम यह है कि तुमने खेल कैसा खेला", आधुनिक ओलिंपिक भावना की अभिव्यक्ति इसके संस्थापक पियरे डी कॉबिरटीन ने इस प्रकार की है कि "सबसे महत्वपूर्ण बात है।..जीतना नहीं, बल्कि इसमें हिस्सा लेना" ये इस भावना की विशिष्ट अभिव्यक्ति हैं।

समय के साथ मनोरंजन वाले पहलू की अपेक्षा खेलों में व्यावसायिकता बढ़ी है। इसकी वजह से कुछ-कुछ संघर्ष के हालात भी पैदा हुए हैं, जहां भुगतान मनोरंजक पहलुओं से ज्यादा अहम हो जाता है, या जहां खेलों को ज्यादा से ज्यादा मुनाफेदार और लोकप्रिय बनाने की कोशिश की जाती है और इस तरह कुछ महत्वपूर्ण परंपराएं लुप्त होती जाती हैं। (विस्तार से पढ़ें...)

साप्ताहिक सुधालेख
निर्वाचित चित्र/center>

कुछ करणीय कार्य

चीजें जिन्हें अद्यतन करते रहना है
मुखपृष्ठ हमेशा अद्यतन होता रहना चाहिये
मुखपृष्ठ को गतिशील रखें
Under construction icon-orange.svg
सुधालेख/साप्ताहिक सहकार्य

निम्नलिखित प्रवेशद्वारों पर ध्यान/सुधार की जरूरत है:

अथवा

WikiProject Council.svg
परियोजनाओं से जुड़ें
Wiki letter w.svg
आधार-लेख का विस्तार करें
Nuvola apps agent.svg
पृष्ठ हटाना और उनसे संबंधित कार्य

अवश्य जानें : हटाने के नीति-नियम

HSContribs.svg
कुछ अन्य ज़रूरी कार्य
Under construction icon-orange.svg
चित्र सुधार

श्रेणियाँ

|}
  1. "स्पोर्टस हिस्ट्री इन चाइना".
  2. "फारस के योद्धा".
  3. "प्राचीन ओलम्पिक खेल".
  4. "sportsmanship". मरियम-वेबस्टर.