मुख्य मेनू खोलें

सन्मार्ग भारत का हिन्दी भाषा का प्रमुख समाचार पत्र है जो वाराणसी, कोलकाता, पटना, राँची एवं भुवनेश्वर से प्रकाशित होता है। इसके संस्थापक स्वामी करपात्री जी थे। नन्दनानंद सरस्वती इसके सम्पादक थे। यह अखिल भारतीय रामराज्य परिषद के मुखपत्र के रूप में शुरू हुआ था।

सन्मार्ग कलकत्ता से १८ अप्रैल १९४८ को प्रकाशित हुआ। प्रबुद्ध वर्ग का आकर्षण इस पत्र के प्रति अधिक रहा। विशेषत: जब यह पत्र पं॰ अनन्त प्रसाद मिश्र के सम्पादन में निकला था, उसका राजनीतिक ही नहीं साहित्यिक स्तर भी उन्नत हुआ। `सन्मार्ग' के वर्तमान सम्पादक हैं-राम अवतार गुप्त। पहले इसका प्रकाशन स्वामी करपात्री जी के आशीर्वाद से वाराणसी से हुआ था और बाद में कलकत्ता से संस्करण निकला। आजकल कलकत्ता संस्कण ही मुख्य पत्र बन गया है।

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें