सबा क़मर पाकिस्तानी ऐक्ट्रेस हैं।[1] सबा क़मर क़ंदील बलोच की बायॉपिक 'बाग़ी' में [2] और फ़िल्म हिंदी मीडियम में इरफान खान के साथ दिखी । सबा क़मर को पाकिस्तान में पाकिस्तानी टी.वी. की रानी कहा जाता है। सबा कई मैगज़ीन के कवर पर अपने जलवे बिखेर चुकी हैं।

सबा क़मर
Saba Qamar and Manish Malhotra grace Masala Awards 2017 (cropped).jpg
सबा क़मर
जन्म 5 अप्रैल 1984 (1984-04-05) (आयु 35)
हैदराबाद (सिंध), पाकिस्तान
राष्ट्रीयता पाकिस्तानी
व्यवसाय टेलिविजन अभिनेत्री, फिल्म अभिनेत्री
प्रसिद्धि कारण पाकिस्तानी धारावाहिक

जन्मसंपादित करें

सबाह क़मर ज़मान (जन्म 5 अप्रैल 1984) को सबा क़मर के रूप में श्रेय जाता है, जो एक पाकिस्तानी अभिनेत्री और टेलीविज़न हस्ती हैं। पाकिस्तान की सबसे लोकप्रिय और उच्चतम भुगतान वाली अभिनेत्रियों में से एक, क़मर लक्स स्टाइल अवार्ड, हम अवार्ड और फ़िल्मफ़ेयर अवार्ड नामांकन सहित कई प्रशंसाओं की प्राप्तकर्ता है। उन्हें पाकिस्तान सरकार ने 2012 में तमगा-ए-इम्तियाज़ और 2016 में प्राइड ऑफ़ परफॉर्मेंस से सम्मानित किया था। उन्होंने टेलीविजन सीरीज़ में औरत हूं (2005) में भूमिका के साथ अभिनय की शुरुआत की। क़मर को आखिरी बार ARY Digital के कोर्टरूम ड्रामा Chehh (2019) में मन्नत के रूप में मुख्य भूमिका निभाते हुए देखा गया था।

कैरियरसंपादित करें

अपने कैरियर की शुरुआत टीवी श्रृंखला में मैं औरत हूँ .से की और इसके लिए पीटीवी का सर्वश्रेष्ठ टीवी अभिनेत्री का पुरस्कार प्राप्त किया

बॉलीवुड फ़िल्म निर्माता दिनेश विजानभूषण कुमार की फ़िल्म हिंदी मीडियम में पाकिस्तानी अभिनेत्री सबा क़मर भारतीय अभिनेता इरफ़ान ख़ान के साथ हैं।[3] फ़िल्म 'मंटो' में नूर का किरदार निभाने के लिए प्रशंसा बटोर चुकीं अभिनेत्री की इस फ़िल्म का निर्देशन साकेत चौधरी निर्देशित कर रहे हैं।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "सोशल- लौट आई है पाकिस्तान की 'बाग़ी' कंदील बलोच".
  2. "कंदील बलोच की बायॉपिक 'बागी' में दिखेंगी सबा कमर".
  3. "Movie Review: 'हिंदी मीडियम', भाषा बन गई घर की मुर्गी".

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें