समराथल यह धाम बीकानेर जिले की तहसील नोखा में स्थित हैं। बिश्नोई समुदाय में समराथल का अत्यधिक महत्त्व हैं। समराथल पर ही गुरू जाम्भोजी ने विक्रम संवत् 1542 के कार्तिक अष्टमी को बिश्नोई पंथ की स्थापना की थी।[1][2]

संदर्भसंपादित करें

  1. Automation, Bhaskar (2019-10-22). "मुकाम से समराथल तक निकाली शोभायात्रा, हवन में दी आहुतियां". Dainik Bhaskar. मूल से 7 दिसंबर 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2020-04-25.
  2. "मुकाम में फाल्गुन मेला: छह मार्च को होगा समाज का खुला अधिवेशन, गुरु की समाधि पर लगाएंगे धोक". Patrika News (hindi में). मूल से 30 मई 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2020-04-25.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)