सर्च एंजिन मार्केटिंग (एसइओ) एक तरह का इंटरनेट मार्केटिंग है जो वेबसाइटों को खोज इंजन परिणाम पृष्ठों (एसइआरपि) के माध्यम से अनुकूलन और विज्ञापन द्वारा उनकी दृश्यता को बढ़ाने के द्वारा बढ़ावा देता है। [1] एस एम खोज इंजन परिणाम पृष्ठों में एक उच्च रैंकिंग प्राप्त करने के लिए वेबसाइट की सामग्री का समायोजित या पुनर्लेखन, सर्च एंजिन ओप्टिमैसेश्न्न (एसईओ) के उपयोग से या पेय पर क्लिक लिस्टिंग के उपयोग से किया जा सकता है। [2]

व्यापारसंपादित करें

साल २०१२ में, उत्तर अमेरिकी विज्ञापनदाताओं ने खोज इंजन विपणन पर $ १९.५१ अरब खरछ किया। सबसे बड़ी खोज इंजन विपणन (एस इ एम) विक्रेताओं में गूगल ऐडवर्ड्स, बिंग एड्स,[3] और बैडू शामिल थे। साल २००६ से, एस इ एम पारंपरिक विज्ञापन और ऑनलाइन विपणन की भी अन्य चैनलों की तुलना में ज्यादा तेजी से बढ़ रहा था। [4]

इतिहाससंपादित करें

१९९० के दशक में वेब पर साइटों की संख्या कि वृद्धि हुई और खोज इंजन लोगों को जल्दी से जानकारी खोजने में मदद करने के लिए प्रदर्शित होने लगी। खोज इंजन ने अप्नी सेवाओं के वित्तपोषण के लिए व्यापार मॉडल विकसित किया जैसे १९९६ में ओपण टेक्स्ट और फिर १९९८ में गोटु.कोम द्वारा पेय पर क्लिक कार्यक्रम शुरु किया। [5][6] "सर्च एंजिन मार्केटिंग", एसईओ प्रदर्शन में शामिल गतिविधियों के स्पेक्ट्रम को कवर करने के लिए २००१ में डैनी सुलिवन द्वारा प्रस्तावित किया गया था। [7] isइस्के अलावा खोज इंजन में पेयड लिस्टिंग का भुगतान का प्रबंध निर्देशिका के लिए साइटों को प्रस्तुत करना और व्यवसायों, संगठनों और व्यक्तियों के लिए ऑनलाइन विपणन रणनीति विकसित करने का काम भि किया गया।

तरीके और मेट्रिक्ससंपादित करें

पांच प्रकार के श्रेणियां और मैट्रिक्स हैं जिस्से खोज इंजन विपणन के माध्यम से वेबसाइट का अनुकूलन किया जासक्ता है। [8]

  1. कीवर्ड अनुसंधान और विश्लेषण के तीन "उपाय" है: साइट सुनिश्चित रूप से खोज इंजन में अनुक्रमित करके साइट और अपने उत्पादों के लिए सबसे अधिक प्रासंगिक और लोकप्रिय कीवर्डों को खोजने से और अधिक यातायात उत्पन्न करके परिवर्तित करने के लिए एक तरह से साइट पर उन कीवर्ड का उपयोग किया जाता है।[1]
  2. सभी वेबसाइटों के लिए ऑन पेज सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन भी बहुत ज़रूरी होता है।[9]
  3. अपनी वेबसाइट पर खोज इंजन के अनुकूल पेज का निर्माण करना। [2]
  4. वेबसाइट संतृप्ति और लोकप्रियता या एक वेबसाइट खोज इंजन पर कितनी उपस्थिति है इस्का अनुमोल खोज इंजन पर अनुक्रमित साइट के पृष्ठों की संख्या (संतृप्ति) के माध्यम और साइट (लोकप्रियता) के कितने बेक्लिंस है इस्से विश्लेषण किया जा सकता है।
  5. बेक एन्ड उपकरणों, वेब विश्लेषणात्मक उपकरणों और एच टि एम एल सत्यापनकर्तों सहित वेबसाइट और अपने आगंतुकों पर डेटा प्रदान करने से एक वेबसाइट की सफलता मापा जाता है। इन उपकरणों से रूपांतरण संबंधी जानकारी प्रदान किया जा सकता हैं।
  6. हूईस उपकरण विभिन्न वेबसाइटों के मालिकों को पता देता है और कॉपीराइट एवं ट्रेडमार्क मुद्दों से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी भी प्रदान करता हैं।

भुगतान शामिल किए जानेसंपादित करें

खोज इंजन कंपनी अपने वेबसाइट में परिणाम पृष्ठों को शामिल करने के लिए फीस चार्ज करते है। खोज इंजन अनुकूलन का एक उपकरण अपने आप में एक खोज इंजन विपणन पद्धति है। [10]

उदाहरणसंपादित करें

ऐडवर्ड्स को एक वेब आधारित विज्ञापन साधन के रूप में मान्यता दिया गया है। यह एक निश्चित उत्पाद या सेवा के संबंध में जानकारी की तलाश में वेब उपयोगकर्ताओं के लिए स्पष्ट रूप से विज्ञप्ति वितरित कर सकते हैं। ऐडवर्ड्स प्रचार की सहायता से केवल नौ महीनों में ही २५०% तक उपभोक्ता की वेबसाइटों के लिए वेब यातायात के विकास में बड़ी सफलता का योगदान प्रदान कर सकता है। [11]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "दी स्टेट ऑफ सर्च एंजिन मार्केटिंग २००६". सर्च एंजिन लँड.फेब्रुवरी ८, २००७. २००७-०६-०७. मूल से 4 जुलाई 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 12 जून 2014.
  2. "डज़ एसईएम= एसईओ + सीपीसी स्टिल आड अप?". सर्केजीन्लँड.कॉम. रिट्रीव्ड २०१०-०३-०५. मूल से 12 जून 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 12 जून 2014. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  3. "याहू! माइक्रोसॉफ्ट अलाइयेन्स". माइक्रोसॉफ्ट. फेब १८, २०१२. रिट्रीव्ड २०१०-०२-१८. मूल से 24 जून 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 12 जून 2014. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  4. एलियट, स्टुअर्ट (मार्च १४, २००६) (रिट्रीव्ड २००७-०६-०७). "मोर एजेन्सीस इनवेस्टिंग इन मार्केटिंग वित ए क्लिक". न्यू यॉर्क टाइम्स. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  5. "एंजिन सेल्स रिज़ल्ट्स, ड्रॉस फाइयर". न्यूज़.कॉम.कॉम.जून २१, १९९६.आर्काइव्ड फ्रॉम दी ओरिजिनल ऑन २०१२-०७-१७. रिट्रीव्ड २००७-०६-०९. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  6. "गोटू सेल्स पोज़िशन्स". सर्केजीनवॉट्च.कॉम. मार्च ३, १९९८. रिट्रीव्ड २००७-०६-०९. मूल से 24 मई 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 12 जून 2014. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  7. "डज़ एसईएम = एसईओ + सीपीसी स्टिल आड अप?". सर्केजीन्लँड.कॉम. मार्च ४, २०१०. रिट्रीव्ड २०१३-१०-०६. मूल से 12 जून 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 12 जून 2014. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  8. ओटिस, रिबेक्का (नवेंबर २०१३) (रिट्रीव्ड २०१४-०१-२०). "यूज़ दीज़ टूल्स फॉर स्मार्ट डिजिटल मार्केटिंग". डिजिटल थर्ड कोस्ट. मूल से 15 जून 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 12 जून 2014. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  9. ओटिस, रिबेक्का ( जंवरीं२०१७) (रिट्रीव्ड २०१८-०१-२०). "ऑन पेज सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन". डिजिटलगाइड. मूल से 2 फ़रवरी 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 29 जनवरी 2017. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  10. "सर्च एंजिन मार्केटिंग". सुपरामाइण्ड डॉट कॉम. मूल से 12 नवंबर 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 12 जून 2014.
  11. "गूगल आड्वर्ड्स केस स्टडी" (PDF). अक्कुरकास्ट. २००७. रिट्रीव्ड २०११-०३-३०. मूल (PDF) से 11 जनवरी 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 12 जून 2014. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)