सर्वप्रिया सांगवान (जन्म 16 दिसम्बर 1989) एक पत्रकार हैं [1][2]। सर्वप्रिया सांगवान हिंदी पत्रकारिता के क्षेत्र में बड़ा नाम है। वो फिलहाल बीबीसी हिंदी में ब्रॉडकास्ट जर्नलिस्ट के रुप में कार्यरत हैं। उनकी पहचान उनकी पत्रकारिता के अलावा अच्छी लेखनी के रुप में भी की जाती है। सोशल मीडिया पर उनके लेखों से एक बड़ा तबका प्रभावित रहता है। इससे पहले वो एनडीटीवी इंडिया में एंकर के रुप में कार्यरत रही हैं। सर्वप्रिया 2011 में दिल्ली आती हैं और एनडीटीवी के पत्रकारिता संस्थान में पढ़ाई शुरु करती हैं और वहीं से एनडीटीवी हिंदी में नौकरी पाती हैं। वो एनडीटीवी के मैनेजिंग एडिटर रविश कुमार की टीम में बतौर रिसर्चर भी रहीं। 2017 में वो एनडीटीवी छोड़ बीबीसी हिंदी में पत्रकारिता का अपना नया सफर शुरु करती हैं। इससे पहले की जिंदगी में उनका पत्रकारिता से कोई नाता नहीं था और वो अपने गृह जिले रोहतक में ही रहकर दंत चिकित्सक की पढ़ाई कर रही थी।

सर्वप्रिया सांगवान
[[Image:
Sarvapriya Sangwan at BBC Delhi Office
|225px]]
जन्म 16 दिसम्बर 1989 (1989-12-16) (आयु 31)
रोहतक, हरियाणा, भारत
शिक्षा सरकारी डेंटल कॉलेज रोहतक,एनडीटीवी मीडिया इंस्टीट्यूटऔर लॉ एंड मेनेजमेंट स्टडीज, गुडगांव
व्यवसाय न्यूज ऐंकर और बीबीसी हिंदी पत्रकार
सक्रिय वर्ष 2011–अब तक
जीवनसाथी कोई नहीं
पुरस्कार पत्रकारिता में उत्कृष्टता के लिए रामनाथ गोयनका पुरस्कार 2020,
डिजिपब वर्ल्ड अवार्ड 2019
वेबसाइट
sarvapriya.com

बचपन और शिक्षासंपादित करें

सर्वाप्रिया सांगवान का जन्म हरियाणा के रोहतक में हुआ। उन्होंने यूनिवर्सिटी कैंपस स्कूल (रोहतक) से अपनी प्रारंभिक शिक्षा प्राप्त की, और उच्च शिक्षा भी उन्होंने रोहतक की महर्षी दयानंद यूनिवर्सिटी से दंत चिकित्सा में प्राप्त की। इसके बाद वो 2011 में दिल्ली आ गई और यहां उन्होंने एनडीटीवी के संस्थान से पत्रकारिता की। 2019 आते आते उन्होंने गुडगांव की एक यूनिवर्सिटी से वकालत की डिग्री भी हासिल कर ली है।

पुरस्कारसंपादित करें

  • रामनाथ गोयनका अवार्ड राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के हाथों (2020 में प्रदान किया गया).[3]
  • डिजीपब वर्ल्ड पुरस्कार - 2019 - बेस्ट आर्टिकल ऑफ द इयर [4]
  • रेड इंक पुरस्कार - तीन बार प्राप्त किया अलग अलग श्रेणीयों में

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Empty citation (मदद)
  2. https://www.bbc.com/hindi/media-50902332
  3. [1]
  4. "संग्रहीत प्रति". मूल से 8 दिसंबर 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 11 मार्च 2020.

साँचा:रामनाथ गोयनका आवार्ड