सांड युद्ध

सांड युद्ध (ग्रीक ταυρομαχία), स्पेन, पुर्तगाल, दक्षिणी फ्रांस तथा अनेक लातीनी अमेरिकी देशों का मनोरंजन है। इसके प्रारंभ के विषय में निश्चित प्रमाण नहीं मिलते लेकिन इसके समर्थन और विरोध में अनेक विवादास्पद मत मिलते हैं।

दक्षिण भारत में भी पोंगल के पर्व के अवसर पर सांड दौड़ और सांड युद्ध की परंपरा है।

लड़ाई में सांड की भागीदारीसंपादित करें

किसी विशेष स्थान पर लाल रंग देखकर सांड के भड़कने का कारण लाल रंग के कपड़े को हिलाए जाने का तरीका होता है। जिस तरह से उसे ‍सांड के सामने लगातार हिलाया जाता है उससे वह भड़क उठता है और हिलाने वाले व्यक्ति की ओर दौड़ पड़ता है। इसी से प्रतियोगिता आरंभ होती है[1]

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें