साहिबजादा जोरावर सिंह' (पंजाबी: ਸਾਹਿਬਜ਼ਾਦਾ ਜ਼ੋਰਾਵਰ ਸਿੰਘ, 28 नवम्बर 1695 – 26 दिसम्बर 1704)[1] गुरु गोविन्द सिंह के चार पुत्रों में से तीसरे पुत्र थे। साहिबजादा जोरावर सिंह और उनके छोटे भाई साहिबजादा फतेह सिंह की गिनती सिखों के सबसे पूज्य एवं श्रद्धेय शहीदों में में होती है।

साहिबजादा जोरावर सिंह
ਸਾਹਿਬਜ਼ਾਦਾ ਜ਼ੋਰਾਵਰ ਸਿੰਘ
जन्म जोरावर सिंह
28 नवम्बर 1695 [1]
Anandpur, India
मृत्यु दिसम्बर 26, 1704(1704-12-26) (उम्र 9)
Fatehgarh Sahib, India
प्रसिद्धि कारण martyrdom in 1704
माता-पिता गुरु गोविन्द सिंह, माता जीतो
संबंधी साहिबजादा अजित सिंह
साहिबजादा जुझार सिंह
साहिबजादा फतेह सिंह

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Shamsher Singh Ashok. "ZORAWAR SINGH (1696-1704)". Encyclopaedia of Sikhism. Punjabi University Patiala. मूल से 29 जुलाई 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 27 मार्च 2016.