सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रन्ट

यह भारत का एक राजनैतिक दल है।


सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रन्ट (अंग्रेज़ी: Sikkim Democratic Front; एसडीएफ) भारत के सिक्किम राज्य में आधारित एक राजनैतिक दल है।[1] इसकी स्थापना पवन कुमार चामलिंग द्वारा ४ मार्च १९९३ को की गई थी। १९९४ के बाद से यह दल चामलिंग के नेतृत्व में राज्य में निरंतर सत्ता में है। १९९९ एवं २००४ के विधानसभा चुनावों में मिली व्यापक सफलता के साथ इस पार्टी ने अपनी स्थिति और मजबूत कर ली। २००९ चुनावों में एसडीएफ के प्रत्याशियों को राज्य की सभी ३२ सीटों पर विजय हासिल हुई।[2] साथ ही साथ, सिक्किम की एकमात्र लोक सभा की सीट भी पार्टी ने अपने पास बरकरार रखी।[3]

सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रन्ट
Sikkim Democratic Front
Sikkim-Democratic-Front-flag.svg
दल अध्यक्ष पवन कुमार चामलिंग
नेता लोकसभा प्रेम दास राई
नेता राज्यसभा हिशे लाचुंगपा
गठन १९९३
मुख्यालय गैंगटोक, सिक्किम
लोकसभा मे सीटों की संख्या
1 / 545
राज्यसभा मे सीटों की संख्या
1 / 245
राज्य विधानसभा में सीटों की संख्या
32 / 32
विचारधारा जनतांत्रिक समाजवाद
जालस्थल http://sikkimdemocraticfront.org
भारत की राजनीति
राजनैतिक दल
चुनाव

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "Sikkim CM wants BJP chief to step in". Archived from the original on 7 सितंबर 2017. Retrieved 7 सितंबर 2017. Check date values in: |access-date=, |archive-date= (help)
  2. राहुल कुमार (६ दिसम्बर २०१०). "ऐतिहासिक जनादेश, अभूतपूर्व चुनाव". तहलका. Retrieved ६ नवम्बर २०१२. Check date values in: |accessdate=, |date= (help)
  3. "सिक्किम में चामलिंग ने शपथ ली". बीबीसी हिंदी. २० मई २००९. Retrieved ६ नवम्बर २०१२. Check date values in: |accessdate=, |date= (help)