मुख्य मेनू खोलें

सिहावा रायपुर के समीप धमतरी जिले में स्थित एक पर्वत श्रेणी है। यहीं से महानदी का उद्गम होता है। सिहावा पर्वत छत्तीसगढ़ राज्य के धमतरी जिले के नगरी नगरी विकास खंड के अंतर्गत आता है जहां से महानदी का उद्गम एक कमंडल से हुआ माना जाता है उस पर्वत ने ऋषि मुनि के कमंडल जब लुढ़क कर गिर गया तो वहां से जल की धारा प्रवाहित होने लगी जो महानदी के रूप में विख्यात है ऐसा माना जाता है महानदी पर्वत के शीर्ष से भाग से प्रवाहित होकर पहाड़ के आंतरिक भागों से होती हुई नीचे धरातल पर गणेश घाट से निकलती है इस पर्वत के एक और शीतला मंदिर स्थित है और दूसरी और गणेश जी का गणेश मंदिर स्थित है जो कि बहुत ही प्रसिद्ध है सिहावा पर्वत के तट के निकट कर्णेश्वर मंदिर स्थित है जहां प्रतिवर्ष माघ माह में मेले का आयोजन होता है जो कि बहुत ही प्रसिद्ध है इस मेले में को देखने दूर-दूर से लोग आते हैं इस मेले की विशेषताएं क्या है की इसमें आदिवासियों अपने देवताओं की पूजा में जुलूस निकालकर घुमाया जाता है जिसे देखने के लिए भारी लोगों की भीड़ इकट्ठा होती है मंदिर के निकट है महानदी और पैरी नदी का संगम है जहां मेले के आरंभ दिवस के दिन प्रातः लोग स्नान करते हैं यह मेला 3 से 5 दिनों का होता है