सुन्दा विवितान (सुन्दा: ᮞᮥᮔ᮪ᮓ ᮝᮤᮝᮤᮒᮔ᮪, Sunda Wiwitan) इण्डोनेशिया के जावा द्वीप के सुन्दा लोगों का प्राचीन व पारम्परिक धर्म है। इसमें पूर्वजों के लिये आस्था और सर्वात्मवाद के गहरे तत्व हैं और बहुत सी हिन्दू धर्मबौद्ध धर्म की अवधारणाएँ भी हैं। सुन्दा विवितान के धार्मिक ग्रन्थ का नाम "संघयांग सिक्साकांडा इंग कारेसिआन" (Sanghyang siksakanda ng karesian) है जो व्यक्ति को अच्छा मानव (ऋषि, सुन्दा भाषा में रेसी) बनने की शिक्षा (सुन्दा में सिक्सा) देता है।[1]

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

बाहरी जोड़संपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Ekadjati, Edi S, "Kebudayaan Sunda, Suatu Pendekatan Sejarah", Pustaka Jaya, Jakarta, 1995, halaman 72-73