मुख्य मेनू खोलें

सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ टेलीमेटिक्स (सी-डॉट) भारत सरकार का दूरसंचार प्रौद्योगिकी विकास केंद्र है। इसकी स्थापना एक स्वायत्त संस्था के रूप में अगस्त 1984 में की गयी थी। इसे भारतीय दूरसंचार नेटवर्क की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए अत्याधुनिक दूर संचार प्रौद्योगिकी विकसित करने का संपूर्ण अधिकार तथा पूर्ण स्वतंत्रता दी गयी। इसका मुख्य उद्देश्य दूर संचार प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में उत्कृष्ट केंद्र की स्थापना करना है।

सी.डॉट
Cdot Logo.png
स्थापनानई दिल्ली, बंगलौर एवं कोलकाता
मालिकभारत सरकार
मुख्य लोगश्री विजय मदान, कार्यकारी निर्देशक
श्री जयंत भटनागर, निर्देशक
जालपृष्ठ[1]

1984 में सी-डॉट का काम प्रारंभ में मुख्य रूप से डिजिटल एक्सचेंजों की डिजाइनिंग और विकास करना तथा भारतीय उद्योग द्वारा इसके व्यापक स्तरीय विनिर्माण को सुकर बनाना था। बाद में, 1989 में संचार उपकरणों का विकास भी इसके कार्य क्षेत्र में जोड़ दिया गया।

अनुक्रम

उद्देश्यसंपादित करें

  1. दूरसंचार प्रौद्योगिकी उत्पादों और सेवाओं के संबंध में काम करना
  2. दूरसंचार की वर्तमान तथा भावी आवश्यकताओं तथा ग्रामीण अनुप्रयोगों के लिए आवश्यक कनवर्ज़ड नेटवर्कों के लिए समाधान उपलब्ध कराना
  3. अनुसंधान और विकास कार्यकलापों का बाजार अभिमुखीकरण करना तथा सी-डॉट को उत्कृष्ट केंद्र के रूप में बनाए रखना
  4. उद्योग, समाधान प्रदाताओं, दूरसंचार कंपनियों तथा अन्य विकास संगठनों के साथ भागीदारी और संयुक्त गठबंधन के जरिये लागत प्रभावी समाधान देना
  5. संस्थापित नेटवर्कों के अधिकतम उपयोग द्वारा नई प्रौद्योगिकियों, विशिष्टताओं और सेवाओं की शुरूआत में दूरसंचार कंपनियों और सेवाप्रदाताओं का समर्थन करना|

संगठनसंपादित करें

शासी परिषदसंपादित करें

नीति संबंधी दिशा निर्देश देती है तथा केंद्र के वार्षिक बजट का अनुमोदन करती है।

संचालन समितिसंपादित करें

इसकी भूमिका केंद्र के निष्पदन की समीक्षा और निगरानी करना है।

परियोजना बोर्डसंपादित करें

यह सी-डॉट की परियोजनाओं के कार्यान्वयन तथा केंद्र के रोजमर्रा के कामकाज के लिए जिम्मेदार है।

अवसंरचनासंपादित करें

नई दिल्ली कैम्पससंपादित करें

नया अनुसंधान और विकास भवन अपने इंजीनियरों और वैज्ञानिकों के लिए अनुकूल माहौल उपलब्ध कराने के उद्देश्य से बनाया गया है। शहर के शोरगुल से दूर यह परिसर प्रसिद्ध छत्तरपुर मंदिर परिसर के पास मांडी रोड, महरौली में खूबसूरत फार्म हाउसिस के बीच स्थित है। सी-डॉट की प्रयोगशालाएं पहले दिल्ली के विभिन्न हिस्सों में भीड़-भाड़ वाले इलाकों में स्थित किराए के भवनों में थी। वर्तमान सुविधा सी-डॉट के सभी कार्यकलाप, अनुसंधान और विकास, कम्पयूटर समर्थित डिजाइन प्रणालियाँ, वैधकरण केंद्र तथा कैप्टिव पाइलट तथा क्षेत्र परीक्षण सुविधाएं एक ही स्थल पर उपलब्ध करायेगी। विकास टीमों को समर्थन देने वाले तकनीकी और प्रशासनिक सेवा समूह भी साथ ही स्थित हैं।

भवन की मुख्य विशेषताओं में हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर विकास प्रयोगशालाएं, अत्याधुनिक भवन प्रबंधन प्रणाली, भौमजल के कुएं, निर्बाध विद्युत आपूर्ति तथा अनुसंधान और विकास कार्य के लिए आवश्यक वातानुकूलित वातावरण आदि शामिल हैं।

पता

सी-डॉट कैम्पस, महरौली, नई दिल्ली-110030

बंगलुरुसंपादित करें

इलैक्ट्रॉनिक्स सिटी, फेज-1, बंगलूर 560 100

कलकत्तासंपादित करें

छठी मंजिल, सीटीएस बिल्डिंग, एफ-94, ट्रांसपोर्ट डिपो रोड. कोलकाता 700088

अत्याधुनिक अनुसंधान और विकास ढांचासंपादित करें

  1. हार्डवेयर तथा एसआईसी डिजाइन के लिए इलैक्ट्रॉनिक डिजाइन ऑटोमेशन टूल
  2. सॉफ्ट्वेयर के विकास तथा परीक्षण के लिए केस टूल
  3. कैप्टिव प्रयोगशालाएं
  4. कम्यूटिंग सेंटर
  5. पॉयलट प्रोडक्शन प्लांट

प्रयोगशालाएं (हार्डवेयर तथा सॉफ्ट्वेयर टूल)संपादित करें

केंद्र में आरआईएससी वर्क स्टेशनों के क्लाइंट सर्वर नेटवर्क, नवीनतम सॉफ्ट्वेयर विकास उपकरण तथा अत्यन्त परिपक्व और प्रभावी विकास तथा समर्थन क्रिया-विधि युक्त अत्याधुनिक विकास पर्यावरण है। केस टूल, वस्तु-अभिमुख क्रियाविधियां, सॉफ्टवेयर इत्यादि का व्यापक प्रयोग किया जाता है।

सी-डॉट में सुसज्जित हार्डवेयर सुविधा है। यहां स्थित कैड सुविधाएं देश में सर्वोत्तम सुविधाओं में से है, जो मल्टिलेयर, हाईफ्रिक्वैन्सी (62एमबीपीएस) बोर्डों के विकास को संभव बनाती है। केंद्र में आधुनिकतम हार्डवेयर प्लेटफार्म तथा सॉफ्ट्वेयर टूल सहित एएसआईसी डिजाइन सुविधाएं भी हैं। 0.35 एम में कॉम्पलैक्स एएसआईसी, 100 केबी रैम तथा 450 के से अधिक गेट काउंट सहित 3.3वी सीएमओएस भी डिजाइन किए गए हैं। प्रयोगशालाओं में आधुनिक परीक्षण एवं मापक उपकरण, माइक्रोप्रोसेसर विकास प्रणालियां तथा प्रोटोटाईप सुविधाएं उपलब्ध हैं।

स्थापनासंपादित करें

भारत में सी डॉट एक्सचेंजों की स्थापना इस प्रकार से है:-

  1. विभिन्न सर्किलों में एक्सचेजों की संख्या (मार्च 2005)
  2. विभिन्न सर्किलों की सज्जित क्षमता (मार्च 2005)
  1. विदेशों में स्थापित सी-डॉट एक्सचेंज

सी-डॉट प्रौद्योगिकी पर आधारित एक्सचेंज दुनियाभर के विभिन्न देशों में स्थापित हैं।.

वर्तमान महत्व और भावी योजनाएंसंपादित करें

सी-डॉट की वर्तमान उत्पाद सूची में विश्व स्तरीय डिजिटल स्विचिंग प्रणालियां, इंटेलीजेंट नेटवर्क समाधान, एक्सेस नेटवर्क उत्पाद, वॉयस ओवर आई पी समाधान, एसडीएच तथा डब्ल्यूडीम प्रौद्योगिकियां, उपग्रह संचार प्रणालियां, नेटवर्क प्रबंधन प्रणालियां तथा प्रचालन समर्थन प्रणालियां शामिल हैं।

सी-डॉट की डिजिटल स्विचिंग प्रणालियां, इंटेलीजेंट नेटवर्क प्रणालियां और ग्रामीण दूरसंचार उत्पाद विशाल भारतीय दूर संचार नेटवर्क पर छाए हुए हैं। सी-डॉट को यह लाभ उसके उत्पादों की लागत प्रभाविकता और मजबूती, व्यापक प्रौद्योगिकी अंतरण तथा फील्ड समर्थन क्रियाविधी के कारण मिला है जिसमें प्रौद्योगिकी प्रप्तकर्ताओं, नेटवर्क प्रचालकों और सेवा प्रदाताओं के साथ दीर्घावधिक संबंधों पर जोर दिया जाता है।

महत्व के क्षेत्रसंपादित करें

  1. परंपरागत प्रणालियों के लिए व्यावसायिक समर्थन
  2. एडवांस्ड इंटैलिजेंट नेटवर्क सेवाएं
  3. प्रचालन समर्थन प्रणालियां
  4. नेटवर्क प्रबंधन प्रणालियां
  5. फिक्सड तथा मोबाइल ग्रामीण वायरलैस प्रणालियां
  6. इंटरस्टी ट्रंक एक्सचेंजों के लिए नेक्स्ट जनरेशन नेटवर्क प्रणालियां
  7. नीतिपरक सेक्टर विकास परियोजनाएं

उपलब्धियांसंपादित करें

सी-डॉट की उपलब्धियां इस प्रकार से हैं:-

  1. सी-डॉट प्रौद्योगिकी पर आधारित प्रणालियां 200 लाइनों से 40000 लाइनों तक की क्षमता में प्रचालन में है।
  2. लगभग 2.5 करोड़ टेलीफोन लाइनों की क्षमता के साथ 30,000 से ज्यादा सी डॉट एक्सचेंज फील्ड में स्थापित और प्रचलित हैं।
  3. संस्थापित दूर संचार उपकरणों का मूल्य 7500 करोड़ रूपये है।
  4. प्रौद्यौगिकी अंतरण और रॉयल्टी से पर्याप्त आय।
  5. कम पूंजीगत निवेश से प्रौद्योगिकी विकास।
  6. व्यापक स्तरीय प्रौद्योगिकियां, उत्पाद और समाधान।
  7. दूर संचार के क्षेत्र में तकनीकी जनशक्ति का विशाल भंडार निर्मित किया।
  8. बहुनिर्माताओं द्वारा उत्पादन के लिए प्रौद्योगिकी अंतरण प्रक्रिया स्थापित की।

समाधान और उत्पादसंपादित करें

एटीएम स्विचसंपादित करें

(ब्रॉडबैंड एकीकृत सेवाएं डिजिटल नेटवर्क स्विचिंग प्लेटफॉर्म)

सी-डॉट बी आइ एस डी एन स्विचिंग प्रणाली पब्लिक नेटवर्कों में बहुतायत में होने वाली जटिल समस्याओं का एकीकृत हल है। इस श्रेणी में छोटे विस्तृत क्षेत्र के नेटवर्क से लेकर ध्वनि, वीडियो, डाटा और मल्टीमीडिया ले जाने वाले बड़े पब्लिक नेटवर्कों तक के लिए व्यापक उत्पाद शामिल हैं। मल्टी सर्विस एक्सेस नेटवर्क यूनिट से उत्पाद, सीरीज रेंज में आते हैं जिन्हें बहुविध नेटवर्कों द्वारा विस्तृत क्षेत्र के बैकबोन नेटवर्कों के स्थायित्व के लिए कोर स्विच वाहक श्रेणी के लिए स्थापित किया जाता है।

सर्किट स्विचसंपादित करें

भारतीय बाजार में 50% फिक्सड लाइनें सी-डॉट द्वारा विकसित स्विचों पर आधारित हैं। सी-डॉट ने क्रमशः स्टैंड-अलोन तथा मल्टिमोडयूल, दोनों किस्मों में 200 से 1,00,000 उपभोक्ताओं तक की विभिन्न क्षमताओं के अत्याधुनिक ग्रामीण तथा शहरी डिजिटल स्विच विकसित किए हैं। ये सभी स्विच आधुनिक सुविधाओं से युक्त हैं एवं इनका निर्माण इस प्रकार से किया गया है कि ये सेवा की जरूरतों एवं नई तकनीकों के मुताबिक कार्य कर सकें।

ग्रामीण स्वचालित एक्सचेंज (रैक्स)

सी-डॉट रैक्स 256 टर्मिनेशन अथवा पोर्ट तक की क्षमता सहित एक डिजिटल स्टोर्ड प्रोग्राम नियंत्रण प्रणाली है। इसमें एक नॉन-ब्लॉकिंग 4-वायर पीसीएम स्विचिंग नेटवर्क कार्य करता है। सी-डॉट रैक्स 256 टर्मिनेशन अथवा पोर्ट तक की क्षमता सहित एक डिजिटल स्टोर्ड प्रोग्राम नियंत्रण प्रणाली है। इसमें एक नॉन-ब्लॉकिंग 4-वायर पीसीएम स्विचिंग नेटवर्क कार्य करता है। यह ग्रामीण प्रयोगों के लिए सर्वाधिक उपयुक्त है, क्योंकि यह बिना किसी बुनियादी ढांचे के तत्काल टेलीफोन कनैक्शन उपलब्ध करता है। दुनिया के अधिकांश गांवों में जनसंख्या 2000 से कम है और ये दूर-दराज के इलाकों में बसे है जहां संचार हमेशा से ही एक बड़ीसमस्या रहा है।

मुख्य स्वचालित एक्सचेंज (मैक्स)संपादित करें

सी-डॉट अंकीय स्विचिंग प्रणाली मेन ऑटोमैटिक एक्सचेंज, अंकीय स्विचिंग प्रणालियों का एक समूह है जो राष्ट्रीय दूरसंचार नेटवर्क के लिए संपूर्ण स्विचिंग सुविधा उपलब्ध कराता है। सी-डॉट डीएसएस मैक्स उत्पादों ने स्थानीय, टोल, परागमन और एकीकृत स्थानीय और एवं परागमन स्विचों के रूप में अपनी क्षमता साबित कर चुके हैं। ग्रामीण अनुप्रयोगों के लिए कुछ सौ लाइनों को आधार प्रदान करने वाले स्विचों से लेकर केंद्रीय कार्यालय के एप्लीकेशन के लिए मुख्य स्विचों की 40,000 लाइनों की सी-डॉट डीएसएस मैक्स की मॉडयूलर संरचना, सभी स्तर के ग्राहकों की आवश्यकताओं को पूरा करने में सक्षम हैं।

एक्सेस नेटवर्क ग्रामीण स्वचालित एक्सचेंजसंपादित करें

सी-डॉट 256 पोर्ट एएन रैक्स एक एक्सेस नेटवर्क उत्पाद है जिसका विकास ग्रामीण इलाकों के लिए विश्व स्तरीय, लागत प्रभावी संचार समाधान के लिए किया गया है। इसके विकास का एकमात्र उद्देश्य गांवों को बदलना था। जमाव बिंदू से कम तापमान वाले पहाड़ी इलाकों, घने वनों, विशाल मरूस्थलों और तटवर्ती क्षेत्रों में-हर तरह के पर्यावरण में प्राकृतिक बाधाओं से परे काम करता है।

इंटेलीजेंट नेटवर्क समाधानसंपादित करें

कन्वर्जड नेटवर्कों के लिए नेटवर्क समाधानसंपादित करें

सी-डॉट लागतप्रभावी तथा गतिशील एकीकृत वायरलाइन तथा वायरलैस इंटेलीजेंट नेटवर्क समाधान प्रदान करता है जिसमें सेवा नियंत्रण बिन्दु (एससीपी), सेवा प्रबंधन बिन्दु (एसएमपी), विशेषीकृत संसाधन बिन्दु (एसआरपी), सेवा निर्माण पर्यावरण बिन्दु (एससीईपी), तथा सेवा स्विचन बिन्दु (एसएसपी) शामिल हैं। इनका प्रयोग वायरलाइन, जीएसएम तथा सीडीएमए वायरलैस की विशिष्टतापूर्ण मूल्यवर्द्धित दूरसंचार सेवाएं तथा इंटरनेट प्रोटोकॉल नेटवर्क तत्काल लगाने के लिए किया जा सकता है। प्रत्येक नोड लागतप्रभावी तरीके से सेवाओं के लिए बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए अलग-अलग काम में लाया जा सकता है। यह समाधान आईटीयू-टी, ईटीएसआई तथा आईईटीएफ मानकों के अनुरूप है और बहुविक्रेता, बहुसेवा नेटवर्क के लिए तैयार है।

फिक्स्ड लाइन एसएमएस समाधानसंपादित करें

फिक्सड लाइन एसएमएस प्रौद्योगिकी लैंड लाइन उपभोक्ताओं के लिए मैसेजिंग सेवा के सभी लाभ उपलब्ध कराती है जो अब तक सिर्फ सेल्यूलर मोबाइल उपभोक्ताओं को ही प्राप्त थी। फिक्सड लाइन उपभोक्ता पीओटीएस, सीडीएमए, डब्ल्यूएलएल तथा जीएसएम और सीडीएमए उपभोक्ताओं को/ द्वारा शॉर्ट मैसेज भेज/ प्राप्त कर सकते हैं। इस प्रौद्योगिकी से थर्ड पार्टी कंटेन्ट प्रदाताओं और विक्रेताओं के लिए बहुत से अवसर खुल गए हैं। यह ई-गवर्नेन्स जैसी सरकारी पहल के लिए भी एक महत्वपूर्ण साधन है। आने वाले समय में दूरसंचार प्रचालक और सेवा प्रदाता इन सेवाओं से पर्याप्त आय की अपेक्षा कर सकते हैं।

नेटवर्क प्रबंधन समाधानसंपादित करें

सी-डॉट नेटवर्क प्रबंधन प्रणाली (सीएनएमएस) नेटवर्क प्रबंधन समाधानों की श्रेणी सीएनएमएस का एक हिस्सा है। सीएनएमएस एक अथवा अधिक नेटवर्क नियंत्रण केंद्रों से वास्तविक समय में नेटवर्क एलीमेंट के निष्पादन को ऑनलाइन प्रबंधित, मॉनिटर, नियंत्रित और अनुरक्षित करने के लिए विभिन्न सॉफ्टवेयर समाधान प्रदान करता है। प्रत्येक नेटवर्क नियंत्रण केंद्र इससे जुड़े विभिन्न नेटवर्क एलीमेंटस की निगरानी और नियंत्रण रख सकता है।

सीएनएमएस विभिन्न अनुप्रयोगों युक्त नेटवर्क में अत्यंत उपयोगी है और पूरे नेटवर्क निष्पादन और उत्पादकता के प्रभावी सुधार और नेटवर्क संसाधनों के अधिकतम उपयोगी के लिए निर्वाद सेवा और गुणवत्ता सुनिश्चित करता है।

प्रचलन समर्थन प्रणालीसंपादित करें

सी-डॉट की बिलिंग तथा प्रचालन समर्थन प्रणाली (सी-बॉस) एक कन्वर्जेंट कस्टमर केयर, बिलिंग तथा लेखांकन प्रणाली है जो प्रतिस्पर्द्धात्मक बहु-सेवा, बहु-प्रौद्योगिकी तथा बहु विक्रेता दूरसंचार नेटवर्क के लिए उपयोगी है। यह फिक्सड लाइन (पीएसटीएन, आईएसडीएन, लीज्ड लाइन), मोबाइल (डब्लयूएलएल,2जी, जीपीआरएस तथा 3जी), एटीएम तथा इंटरनेट प्रोटोकॉल नेटवर्कों पर बुनियादी तथा मूल्यवर्द्धित सेवाएं प्रदान करने के लिए महत्वपूर्ण समाधान है।

प्रचलन समर्थन प्रणालीसंपादित करें

सी-डॉट की बिलिंग तथा प्रचालन समर्थन प्रणाली (सी-बॉस) एक कन्वर्जेंट कस्टमर केयर, बिलिंग तथा लेखांकन प्रणाली है जो प्रतिस्पर्द्धात्मक बहु-सेवा, बहु-प्रौद्योगिकी तथा बहु विक्रेता दूरसंचार नेटवर्क के लिए उपयोगी है। यह फिक्सड लाइन (पीएसटीएन, आईएसडीएन, लीज्ड लाइन), मोबाइल (डब्लयूएलएल,2जी, जीपीआरएस तथा 3जी), एटीएम तथा इंटरनेट प्रोटोकॉल नेटवर्कों पर बुनियादी तथा मूल्यवर्द्धित सेवाएं प्रदान करने के लिए महत्वपूर्ण समाधान है।

ऑप्टिकल ट्रांस्पोर्टसंपादित करें

ऑप्टिकल क्षेत्र में सी-डॉट एसडीएच हैरारकी की कॉम्पेक्ट और लागत प्रभावी एसटीएम-1 तथा ब्रॉडबैंड ऑप्टिकल फाइबर बैकबोन नेटवर्कों के लिए ऑप्टिकल बूस्टर एम्पलीफायर उपलब्ध कराता है। डैन्स तथा कोर्स वेवलैंथ मल्टिप्लैक्सिंग प्रणालियां का विकास कार्य शीघ्र ही पूरा होने वाला है।. अधिक जानकारी

ग्रामीण वायरलैस एक्सेस तथा ब्रॉडबैंड समाधानसंपादित करें

सी-डॉट ग्रामीण वायरलैस एक्सेस तथा ब्रॉडबैंड समाधान एकीकृत वॉइस, मल्टिमीडियम और ब्रॉडबैंड सेवाओं के लिए मूल्यवद्धित विशिष्टताएं उपलब्ध कराता है। यह सेवाओं के त्वरित रोल आउट को भी आसान बनाता है। यह समाधान दूर-दराज तितर-बितर, कम जनसंख्या घनत्व वाले क्षेत्रों में सेवाएं प्रदान करने के लिए लागत-प्रभावी वाइमैक्स तथा वाय-फाय प्रौद्योगिकियों के मिश्रण पर आधारित है।

स्थलीय तथा उपग्रहसंपादित करें

  1. सी-बैंड में आईडीआर उपकरण
  2. टीडीएमए पीएमपी
  3. वेरियेबल रेट मॉडेम
  4. ब्रॉडबैंड मॉडेम
  5. केयू बैंड अप तथा डाउन कन्वर्टर
  6. आरएफ स्विच ओवर यूनिट
  7. मॉडेम स्विच ओवर यूनिट

अधिक जानकारी हेतु देखें

सेवाएंसंपादित करें

परामर्शसंपादित करें

सी-डॉट की सबसे बड़ी संपत्ति इसका व्यापक ज्ञान भंडार है जो इसने लागतप्रभावी संचार प्रौद्योगिकियां विकसित करने के दौरान अर्जित किया है। इसकी बदौलत पूंजीगत व्यय में बचत होती है और ग्राहकों को सेवासंतुष्टि मिलती है।

हमारी परामर्श सेवाओं का लक्ष्य ग्राहकों के लिए लागतप्रभावी नेटवर्क डिजाइन करने में निर्बाध प्रचलन सुनिश्चित करते हुए सहायता देना शामिल हैः

  1. बिना अतिरिक्त संसाधन निवेश के उच्च स्तरीय विशेषज्ञता तक पहुँच
  2. उन्नत परिसंपत्ति उत्पादकता तथा विपणन करने के लिए कम समय
  3. लागतप्रभावी नेटवर्क योजना
  4. रचनात्मकता और प्रभावोत्पादकता के साथ बाजार के बारे में हमारी जानकारी तथा हमारे लक्ष्यों से गुणवव्ता और नवीनता में नए आयाम स्थापित किये गए जो हमारे ग्राहक हमसे अपेक्षा रखते हैं। सी-डॉट की परामर्श सेवा के बारे में विस्तार से जानने के लिए हमसे संपर्क करें।

प्रशिक्षणसंपादित करें

सी-डॉट विनिर्माण, परीक्षण, स्थापना और रख-रखाव के लिए अपने ग्राहकों के इंजीनियरों को हार्डवेयर और सॉफ्ट्वेयर का उपयुक्त प्रशिक्षण देता है। उत्पादों और विनिर्माण प्रौद्योगिकी को आसानी से समझने के लिए प्रशिक्षण में व्यावहारिक जानकारी देने के साथ-साथ क्लासरूम लैक्चर भी शामिल हैं।

तकनीकी सहायतासंपादित करें

उत्पादन अवसंरचना की स्थापना, प्रोटोटाइप तैयार करने, परीक्षण प्रणाली एकीकरण तथा वैधीकरण के चरणों के दौरान सी-डॉट उत्पादन सुविधा के साथ-साथ सी-डॉट विशेषज्ञों से तकनीकी सहायता भी उपलब्ध कराई जाती है।

प्रौद्योगिकी हस्तांतरणसंपादित करें

सी-डॉट की हस्तांतरण (टीओटी) नीति हस्तांतरण प्रक्रिया में काफी सफल रही है। इसका उद्देश्य प्राप्तकर्ता को केवल बुनियादी ढांचे और उत्पादन की पर्याप्त जानकारी देने तक ही सीमित नहीं है बल्कि यह लाइसेंसप्राप्त विनिर्माताओं को पूंजीगत उपकरणों और कल पुर्जों के स्त्रोतों के बारे में भी महत्वपूर्ण ब्यौरा उपलब्ध कराता है।

विनिर्माताओं को पूंजीगत उपकरणों और कल-पुर्जों की जानकारी उपलब्ध कराई जाती है ताकि उन्हें प्रापण प्रक्रिया में आसानी हो। बैच स्वीकार्यता प्रक्रिया तथा गुणवत्ता के स्वीकार्य मापदंड भी सहायता में शामिल किए जाते हैं।

टीओटी प्रक्रिया

सी-डॉट हस्तांतरण पैकेज के अंतर्गत प्रलेखन, प्रशिक्षण तथा प्रोटोटाइप विकसित करने और अनुवर्ती सेवाएं भी उपलब्ध कराता है। हस्तांतरण के सहमत तरीके के आधार पर टीओटी प्रक्रिया दो अलग-अलग प्रकार की हो सकती है।

टीओटी पैकेज

प्रौद्योगिकी हस्तांतरण पैकेज में निम्नलिखित शामिल हैं:

  • डिजाइन दस्तावेज
  • इंजीनियरिंग इनपुट
  • परीक्षण और वैधीकरण दस्तावेज
  • विनिर्माण दस्तावेज
  • उत्पादन तथा गुणवत्ता नियंत्रण दस्तावेज
  • प्रयोक्ता दस्तावेज
  • प्रशिक्षण
  • तकनीकी सहायता
विदेशों में प्रौद्योगिकी प्राप्तकर्ता के लिए उत्पादन शुरू करने के विकल्प
  • तैयार प्रणालियों का समेकन और परीक्षण
  • सेमी नॉकडाउन (एसकेडी) को एसेम्बल करना
  • कम्पलीटली नॉक डाउन (सीकेडी) किट

भागीदारसंपादित करें

सी-डाट के भआगीदार हैं:-

  • सी-डॉट ने मार्च 2005 में भारतीय और विश्व बाजारों के लिए वायरलैस प्रौद्योगिकियों के अनुसंधान, विकास और विपणन के लिए एल्काटेल के साथ समझौता ज्ञापन और विपणन के लिए एल्काटेल के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। इसने वाईमैक्स प्रौद्योगिकियों (आईईईई 802.16ई स्टेन्डर्ड) पर आधारित पहली परियोजना के साथ वायरलैस प्रौद्योगिकियों पर वैश्विक अनुसंधान केंद्र स्थापित करना शामिल है।
  • सी-डॉट तथा वानुइंक सॉफ्टवेयर रेडियो समाधान के अग्रणी विकासकर्ता ने भारतीय ग्रामीण संचार बाजार के लिए वायरलैस अभिगम्यता और ब्रॉडबैंड समाधान में महत्वपूर्ण हिस्से के रूप में वानु एनीवेव टीएम सॉफ्टवेयर रेडियो जीएसएम बेस स्टेशन प्रौद्योगिकी का परीक्षण के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।.
  • सी-डॉट ने फिक्स्ड वायरलैस ब्रॉडबैंड अभिगम्यती प्रणालियों को संयुक्त विकास के लिए कम्यूनिकेशन्स रिसर्च सेंटर (सीआरसी), कनाडा के साथ समझौता ज्ञापन किया।

कार्य़ संस्कृति और माहौलसंपादित करें

सी-डॉट की स्थापना भारतीय परिवेश में उच्च उत्पादकता, दक्षता और बेहतर जीवनशैली के लिए जनप्रबंधन के मॉडल के रूप में की गई। सी-डॉट में लगभग 1000 इंजीनियर कार्यरत हैं। मानव संसाधन विकास ने इसकी स्थापना से ही एक बेहतर तादात्म्य स्थापित करने के लिए एक उत्प्रेरक का काम किया है ताकि अलग-अलग प्रतिभाओं और सीमा के कर्मचारी सर्वोत्तम परिणाम के लिए एक-दूसरे के पूरक बन सकें। सी-डॉट में मानव संसाधन का उद्देश्य लोगों और व्यावसायिकता के प्रति वचनबद्धता पर आधारित उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए अनुकूल माहौल और संस्कृति का निर्माण करना रहा है।

सी-डॉट में माहौल सभी के प्रति सम्मान और अपनेपन की भावना विकसित करने का है। सी-डॉट में कर्मचरियों और उनके परिवार के सदस्यों के कल्याण पर जोर दिया जाता है। कैंटीन, वाहन और कार्यलय अवसंरचना जैसी सुविधाएं चौबीसों घंटे उपलब्ध रहती हैं।

मानव संसाधन प्रबंधन में कर्मचारियों के विकास और सीखने के माहौल के माध्यम से उनकी प्रतिभा में निखार लाने को अत्यंत महत्व दिया जाता है। सी-डॉट के कार्यकलाप और कार्यपद्धति को इस तरह से विकसित किया गया है कि सभी सदस्यों में गौरव तथा संतोष की भावना विकसित हो, सर्वश्रेष्ठ योगदान देने की इच्छा हो, व्यक्तिगत प्रभाव बढ़ाने, कार्य की गुणवत्ता में सुधार लाने तथा कैरियर विकास के साथ -साथ कर्मचारियों को बेहतर व्यक्ति बनाने के लिए तैयारी करना शामिल है।

सी-डॉट में मानव संसाधान की विभिन्न नीतियां और प्रक्रियाएं विश्वास, देखभाल और सशक्तिकरण के सिद्धांतों पर आधारित है। कर्मचारियों में अत्याधिक विश्वास, प्रचालन, कार्य घंटों में लचीलेपन तथा स्वघोषणा पर विभिन्न व्ययों की प्रतिपूर्ति जैसी सुविधाओं से परिलक्षित होता है।

सी-डॉट का कर्मचारी सशक्तिकरण का सिद्धांत विभिन्न योजनाओं, समीक्षा और निगरानी समितियों में कर्मचारी को शामिल करने खुली तथा पारदर्शी प्रणाली द्वारा परिलक्षित होता है, जहां अधिकांश निर्णय (अर्थात पदोन्नति पुरस्कार) आदि अलग-अलग टीमों द्वारा दिये जाते हैं। वित्तीय तथा प्रशासनिक अधिकारों को प्रचालन स्तर पर प्रत्यायोजित किया गया है।

सी-डॉट का संगठन समतावादी सिद्धांतों पर आधारित है जो व्यावसायिकता, खुलेपन, कर्मचारी के लिए सम्मान, रचनात्मकता, नवीनता, प्रतिस्पर्द्धा और चुनौती को बढ़ावा देता है तथा जनअभिमुखीकरण और आत्मविकास को महत्व देता है। विभिन्न प्रणालियां, नीतियां तथा व्यवसाय योजनाएं, उत्पाद योजनाएं पूरी तरह निर्धारित हैं तथा लैन के जरिये इन तक सबकी पहुँच है।

सी-डॉट तथा जॉल्टिड इंफरमेशन सिस्टम्स प्राइवेट लिमिटेड ने फाइबर पर ब्रॉडबैंड सेवाएं देने के लिए जी-पॉन आधारित समाधान विकसित करने के लिए साझेदारी की।

बाहरी कड़ियांसंपादित करें