सेर भारतीय उपमहाद्वीप का एक पारम्परिक वज़न का माप है। आधुनिक वज़न के हिसाब से ऐक सेर लगभग ९३३ ग्राम के बराबर है, यानि एक किलोग्राम से ज़रा कम।[1]

दो सेर
आधा सेर
"रत्ती" एक प्रकार का बीज होता है जिसपर "रत्ती" नाम का वज़न आधारित है - एक "सेर" में ७,६८० रत्तियाँ आती हैं

पारम्परिक भारतीय वज़नसंपादित करें

पारम्परिक भारतीय वज़न इस प्रकार हैं[2] -

  • धान की एक रत्ती' बनती है
  • रत्ती का एक माशा बनता है
  • १२ माशों का एक तोला बनता है
  • तोलों की एक छटाक बनती है
  • १६ छटाक का एक सेर बनता है
  • सेर की एक पनसेरी बनती है
  • पनसेरियों का एक मन बनता है|

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Annemarie Schimmel, Burzine K. Waghmar (2004), The empire of the great Mughals: history, art and culture, Reaktion Books, आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9781861891853, मूल से 28 मई 2013 को पुरालेखित, अभिगमन तिथि 4 दिसंबर 2011
  2. James Prinsep, Henry Thoby Prinsep (1858), Essays on Indian antiquities, historic, numismatic, and palæographic, of the late James Prinsep, J. Murray