मुख्य मेनू खोलें

स्टेगोसोरस (Stegosaurus) डायनासोरों का एक वंश था जिनके आज से १५ से १५.५ करोड़ पुराने जीवाश्म (फ़ोसिल) मिले हैं। यह एक भारी और बड़े आकार के शाकाहारी डायनासोर थे जो अपने कवच-वाले शरीर, पीठ पर स्थित खड़े हुए तख़्तों की क़तार और पूँछ पर लगी बड़ी नोकदार कीलों के लिये जाने जाते हैं। स्टेगोसोरों के शरीरों में इन तख़्तों के उद्देश्य को लेकर वैज्ञानिकों में मतभेद है लेकिन कीलों का प्रयोग स्टेगोसोर अपनी रक्षा के लिये करते थे। आज तक लगभग ८० स्टेगोसोरों के जीवाश्म मिल चुके हैं जिन के आधार पर इस वंश की तीन अलग जीववैज्ञानिक जातियाँ ज्ञात हैं।[1]

स्टेगोसोर
Stegosaurus
Stegosaurus BW.jpg
स्टेगोसोर का एक चित्रण
वैज्ञानिक वर्गीकरण
जगत: जंतु
संघ: रज्जुकी (Chordata)
वर्ग: सरीसृप (Reptilia)
गण: †ओर्निथिस्किया (Ornithischia)
उपगण: †स्टेगोसोरिया (Stegosauria)
कुल: †स्टेगोसोरिडाए (Stegosauridae)
उपकुल: †स्टेगोसोरिनाए (Stegosaurinae)
वंश: स्टेगोसोरस (Stegosaurus)
मार्श, १८८७
जातियाँ
  • S. ungulatus
  • S. sulcatus

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Turner, C.E. and Peterson, F., (1999). "Biostratigraphy of dinosaurs in the Upper Jurassic Morrison Formation of the Western Interior, U.S.A." Pp. 77–114 in Gillette, D.D. (ed.), Vertebrate Paleontology in Utah. Utah Geological Survey Miscellaneous Publication 99-1.