यह प्राणी जगत का एक समूह है, जो अपने नवजात को दूध पिलाते हैं जो इनकी (मादाओं के) स्तन ग्रंथियों से निकलता है। यह कशेरुकी होते हैं और इनकी विशेषताओं में इनके शरीर में बाल, कान के मध्य भाग में तीन हड्डियाँ तथा यह नियततापी प्राणी हैं। स्तनधारियों का आकार २९-३३ से.मी. (मधुमक्खी नुमा चमगादड़) से लेकर ३३ मी. (नीली व्हेल) तक होता है। स्तनधारी जीव यूरिया उत्सर्जित करते हैं जिन्हे युरियोटेलिक कहते है

स्तनधारी अथवा स्तनपायी
सामयिक शृंखला: 220–0 मिलियन वर्ष
Late ट्राइऍसिक – वर्तमान
Mammal Diversity 2011.png
स्तनपाइयों के उद्धाहरण
वैज्ञानिक वर्गीकरण
अधिजगत: सुकेन्द्रिक
जगत: जंतु
संघ: रज्जुकी
(unranked) क्रॅनिआटा
उपसंघ: कशेरुकी
अधःसंघ: ग्नॅथॉस्टोमॅटा
अधिवर्ग: चौपाये
(unranked) ऍमनिओटा
वर्ग: मॅमेलिआ
लिनेयस, १७५८
Clades

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

स्तन धारियों में ऊँट का शारीरिक तापमान एक दिन में बहुत परिवर्तित हो सकता है। ऊंट पूरे दिन के दौरान अपने शरीर के तापमान को 34 डिग्री सेल्सियस से लेकर 41.7 डिग्री सेल्सियस तक समंजित कर सकता है।