स्तम्भोपरिरचना

स्तंभ के ऊपर क्षैतिज बनी एक ऊपरिरचना होती है और स्तंभशीर्षों पर स्थित होती है। एन्टैब्लेचर परम्परागत स्थापत्यकला के एक प्रमुख घटक हुआ करते थे।

स्तम्भोपरिरचना (=स्तम्भ + उपरि + रचना = स्तम्भ के ऊपर की रचना ; अंग्रेज़ी:एन्टैब्लेचर entablature) (/ɛnˈtæbləər/) स्तंभ के ऊपर क्षैतिज बनी एक ऊपरिरचना होती है और स्तंभशीर्षों पर स्थित होती है। एन्टैब्लेचर परम्परागत स्थापत्यकला के एक प्रमुख घटक हुआ करते थे। इसके दो प्रमुख भाग होते हैं:

  1. तोरण सज्जा या आर्किट्रेव: एन्टैब्लेचर के एकदम ऊपर स्थित क्षैतिज घटक जो लिन्टल के समान प्रतीत होता था।
  2. मध्य पट्टी या फ़्राईज़
  3. कपोत या कंगनी या कॉर्निस (त्रिकोणिकाके एकदम नीचे का भाग।
डोरिक ऑर्डर का एन्टैब्लेचर
आयनिक ऑर्डर का एन्टैब्लेचर
कॉरिन्थियन ऑर्डर का एन्टैब्लेचर
सीज़ेरिया मरीतिमा का एक एन्टैब्लेचर