स्वराज (पुस्तक) सामाजिक कार्यकर्ता अरविन्द केजरीवाल द्वारा लिखी गयी एक पुस्तक है। इस पुस्तक में भारतीय लोकतान्त्रिक ढाँचे में बदलाव लाने एवं वास्तविक स्वराज के लाने का रास्ता दिखाया गया है।

स्वराज  
Swaraj hindi Cover.jpg
लेखक अरविंद केजरीवाल
देश भारत
भाषा हिन्दी, अंग्रेजी
विषय प्रजातंत्र
प्रकार भारत का प्रजातांत्रिक ढांचा
प्रकाशक हार्पर कॉलिंस
प्रकाशन तिथि 2012
अंग्रेजी में
प्रकाशित हुई
2012
पृष्ठ 80
आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ India – ISBN 9788172237677

पुस्तक के बारे मेंसंपादित करें

इस पुस्तक का अनावरण 29 जुलाई 2012 को नई दिल्ली स्थित जंतर मंतर पर किया गया था। उस समय में अरविंद केजरीवाल ने कहा था - "ये पुस्तक वर्तमान केन्द्रीयकृत प्रशासन व्यवस्था की कमियों को उजागर करती है और बताती है कि वास्तविक जनतंत्र कैसे लाया जा सकता है।"[1] उन्होंने यह भी कहा कि वे इस पुस्तक से कोई रॉयल्टी नहीं कमाएंगे तथआ उनकी इच्छा है कि यह पुस्तक अधिक से अधिक लोगों तक पहुँचे।[1]प्रख्यात गाँधीवादी समाजसेवी श्री अन्ना हजारे ने इस पुस्तक की प्रस्तावना लिखी है।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "Arvind Kejriwal launches book on Team Anna's 'struggle' : North, News - इंडिया टुडे". Indiatoday.intoday.in. 2012-07-30. अभिगमन तिथि 2012-12-26.