हरियाणा साहित्य अकादमी हिन्दी एवं हरियाणवी साहित्य के विकास को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से गठित संस्था है। इसकी स्थापना 09 जुलाई 1970 को हुआ था। यह 'हरिगन्धा' नामक मासिक पत्रिका का प्रकाशन करती है। यह हिन्दी साहित्य के लिए अनेक पुरस्कार प्रदान करती है।

हरियाणा साहित्य अकादमी द्वारा प्रदत्त पुरस्कार
  • (१) आजीवन साहित्य साधना सम्मान -- 5.00 लाख रूपये
  • (२) पं. माधव प्रसाद मिश्र सम्मान -- 2.50 लाख रूपये
  • (३) महाकवि सूरदास सम्मान -- 1.50 लाख रूपये
  • (४) बाबू बालमुकुन्द गुप्त सम्मान -- 1.00 लाख रूपये
  • (५) लाला देशबंधु गुप्त सम्मान -- 1.00 लाख रूपये
  • (६) पं. लखमीचंद सम्मान -- 1.00 लाख रूपये
  • (७) जनकवि मेहर सिंह सम्मान -- 1.00 लाख रूपये
  • (८) हरियाणा गौरव सम्मान -- 1.00 लाख रूपये
  • (९) आदित्य-अल्हड हास्य सम्मान -- 1.00 लाख रूपये
  • (१०) श्रेष्ठ महिला रचनाकार सम्मान -- 1.00 लाख रूपये

उपरोक्त पुरस्कारों के अलावा प्रतिवर्ष श्रेष्ठ कृति पुरस्कार भी दिए जाते हैं।