हस्टिंग्स कामुज़ू बाण्डा (मार्च या अप्रैल १८९८[1] – २५ नवम्बर १९९७) १९६१ से १९९४ तक मलावी और इसके पूर्ववर्ती राज्य न्यासलैण्ड के नेता थे। उनकी अधिकत्तर शिक्षा के बाद बाण्डा अपनी गृह काउंटी (उस समय के ब्रितानी न्यासलैण्ड), उपनिवेशवाद के विरुद्ध बोलने के लिए और स्वतंत्रता के लिए वकालत करने के लिए वापस पहुँचे। १९६३ में उन्हें औपचारिक रूप से न्यासवाद के प्रधानमंत्री पद पर नियुक्त किया गया जो बाद में मलावी के रूप में स्वतंत्र राष्ट्र बन गया।[2]

हस्टिंग्स कामुज़ू बाण्डा
हास्टिंग्स बान्डा

१९६४ में लंदन, इंग्लैण्ड में हास्टिंग बाण्डा


मलावी के प्रथम राष्ट्राध्यक्ष
कार्य काल
6 जुलाई 1966 – 24 मई 1994
पूर्ववर्ती एलिज़ाबेथ द्वितीय
मलावी की रानी के रूप में
उत्तरावर्ती बकिली मुलुज़ी

कार्यकाल
6 जुलाई 1964 – 6 जुलाई 1966
पूर्वाधिकारी पद निर्माण
उत्तराधिकारी राष्ट्रपति के रूप में स्वयं

जन्म 15 फ़रवरी 1898
कसुंगू, ब्रितानी मध्य अफ़्रीका राज्य
मृत्यु 25 नवम्बर 1997 (आयु 99)
दक्षिण अफ़्रीका
राजनैतिक पार्टी मलावी कांग्रेस पार्टी
धर्म प्रेस्बिटेरियनवाद

सन्दर्भसंपादित करें

  1. ब्रॉडी, डोनल (2000). "Conversations with Kamuzu: The Life and Times of Dr. H. Kamuzu Banda". मूल से 3 दिसंबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 नवंबर 2013.
  2. लुई या मॉयस्टोन (16 अक्टूबर 2010). "Howell: man of heroic proportions". जमायिका ऑबजर्वर. मूल से 29 जून 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 नवम्बर 2013.