हिज़बुल मुजाहिदीन अप्रैल, 1990 में अस्तित्व में आया एक अलगाववादी संगठन है।[1] इसका गठन मुहम्मद एहसान डार ने किया था। 17 अक्टूबर 2016 को जम्मू-कश्मीर में ज़ाकिर मूसा को हिज़्बुल का नया कमांडर बनाया। ये बुरहान वानी की मौत के बाद उसकी जगह नया कमांडर बनाया गया।[2]

भारत,[3] संयुक्त राज्य[4][5][6][7][8] और यूरोपीय संघ[9] द्वारा इस संगठन को आतंकवादी माना गया है। 13 सितंबर 2018 को उत्तर प्रदेश एटीएस ने कानपुर से इस संगठन के एक सदस्य को गिरफ्तार किया गया।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 29 जनवरी 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 22 अक्तूबर 2016.
  2. जाकिर मूसा बना हिजबुल का नया कमांडर, भारत को दी धमकी Archived 26 अक्टूबर 2016 at the वेबैक मशीन. - आईबीएन 7 - 17 अक्टूबर 2016
  3. "संग्रहीत प्रति". मूल से 29 जनवरी 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 22 अक्तूबर 2016.
  4. "US adds 4 Indian outfits to terror list". रीडिफ. 30 April 2004. मूल से 25 मई 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 13 May 2015. Italic or bold markup not allowed in: |publisher= (मदद)
  5. "L - Appendix A: Chronology of Significant Terrorist Incidents, 2002". मूल से 16 सितंबर 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2016-08-22.
  6. "N - Appendix C: Background Information on Other Terrorist Groups". मूल से 16 सितंबर 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2016-08-22.
  7. "Appendix C -- Background Information on Other Terrorist Groups". मूल से 16 सितंबर 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2016-08-22.
  8. Background Information on Other Terrorist Groups (PDF). मूल से 21 दिसंबर 2016 को पुरालेखित (PDF). अभिगमन तिथि 23 अक्तूबर 2016 – वाया State Department of the United States of America.
  9. "संग्रहीत प्रति". मूल से 10 जनवरी 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 23 अक्तूबर 2016.