1867 का ऑस्ट्रो-हंगेरियन समझौता बनाएँ ने ऑस्ट्रिया-हंगरी का द्विराजतंत्र (अंग्रेज़ी: dual monarchy) को स्थापित किया था। इस समझौते से हंगरी राज्य की संप्रभुता को अंशतः बहाल हुई, जो अब ऑस्ट्रियाई साम्राज्य के अधिकार में नहीं रहा। हंगरी ने अपनी स्वतंत्रता 1848 क्रांति में खो गई थी।