मुख्य मेनू खोलें

यह पदार्थ के कणों (अणु, परमाणु अथवा आयन) के मध्य कार्यरत आकर्षण बल है जो उन्हें समीप रखने में सहायक होता है।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें