अदमा बैरो (Adama Barrow)पश्चिमी अफ्रीकी देश गाम्बिया के राष्ट्रपति हैं। बैरो ने २१ जनवरी २०१७ को गाम्बिया के तीसरे राष्ट्रपति की शपथ ग्रहण की। इसके पूर्व राष्ट्रपति याह्या जम्मेह ने २२ वर्षों तक गाम्बिया राष्ट्र की सत्ता की बागडोर अपने हाथों में रखी। बैरो के चुनाव जीतने पर भी जम्मेह सत्ता से हटना नहीं चाहते थे अतः पडोसी देश सेनेगल में बैरो ने राष्ट्रपति कार्यालय का उद्घाटन कर दिया। 21 जनवरी, 2017 को सेना ने नए राष्ट्रपति के प्रति निष्ठा व्यक्त करने पर जम्मेह ने सत्ता छोड़ने का संकेत दिया।

अदमा बैरो
गाम्बिया के राष्ट्रपति

पदस्थ
कार्यालय ग्रहण 
21 जनवरी 2017
उप राष्ट्रपति फतोउमट तम्बजंग (Fatoumata Tambajang)
पूर्वा धिकारी याह्या जाम्मे

जन्म 16 फ़रवरी 1965
मन्कामांग कुंदा, ब्रिटिश गाम्बिया
मृत्यु सितम्बर 26, 2015(2015-09-26) (उम्र 29)
मार्च 25, 2020(2020-03-25) (उम्र 30)
ब्रिटिश गाम्बिया, मेक्सिको
समाधि स्थल ब्रिटिश गाम्बिया, मेक्सिको
ब्रिटिश गाम्बिया, मेक्सिको
राजनीतिक दल यूनाइटेड डेमोक्रेटिक पार्टी (2016 तक )
जीवन संगी दो पत्नियां
बच्चे 7
धर्म सुन्नी इस्लाम

सत्ता का हस्तांतरणसंपादित करें

वर्ष 1965 में गाम्बिया को ब्रिटिश सत्ता से स्वतंत्र घोषित कर दिया। यह गाम्बिया के इतिहास में प्रथम अवसर था, जब बिना किसी खून खराबे के सत्ता का हस्तांतरण हुआ। [1]

प्रारंभिक जीवनसंपादित करें

वर्ष 1965 में गाम्बिया को यू॰के॰ से आजादी मिली और उसी वर्ष देश के पूर्वी किनारे के बसे नगर के निकट छोटे से गाँव में बैरो का जन्म हुआ। [1] बैरो कई वर्षों तक यूनाइटेड किंगडम में रहे।

शिक्षासंपादित करें

अचल संपत्ति के कारोबार की शिक्षा प्राप्त करते हुए बैरो ने वर्ष 2000 में अर्गोस कैटेलॉग स्टोर, नार्थ लन्दन में सुरक्षा गॉर्ड का काम भी किया।[1]

व्यवसायसंपादित करें

बैरो ने 2006 में अचल संपत्ति का कारोबार प्रारम्भ किया जो राष्ट्रपति के चुनाव तक चलता रहा। राष्ट्रपति का चुनाव लड़ने के लिए बैरो ने सात विरोधी पार्टियों से समझौता किया और सफल रहे।

 
अदमा बैरो 2016

राजनीतिक जीवनसंपादित करें

  • 21 जनवरी 2017 को गाम्बिया के तीसरे राष्ट्रपति के पद का कार्यभार सम्भाला।

सन्दर्भसंपादित करें