मुख्य मेनू खोलें

अयोध्या विवाद एक राजनीतिक, ऐतिहासिक और सामाजिक-धार्मिक विवाद है जो नब्बे के दशक में सबसे ज्यादा उभार पर था। इस विवाद का मूल मुद्दा राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद की स्थिति को लेकर है।[1] विवाद इस बात को लेकर है कि क्या हिंदू मंदिर को ध्वस्त कर वहां मस्जिद बनाया गया या मंदिर को मस्जिद के रूप में बदल दिया गया।

अनुक्रम

इतिहाससंपादित करें


मुग़ल शासक बाबर 1526 में भारत आया। 1528 तक वह अवध वर्तमान अयोध्या तक पहुँच गया। बाबर के सेनापति मीर बाकी ने 1528-29 में एक मस्जिद का निर्माण कराया था। यह अभी भी रहस्य है कि क्या मंदिर को तोड़कर मस्जिद बनवाई गई या मंदिर की ही मस्जिद के अनुसार बदला गया या फिर अलग से स्वायत्त बनाई गई।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "अयोध्या में कब-कब क्या हुआ?".

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें