अरुण कुमार (राजनेता)

भारतीय राजनीतिज्ञ

अरुण कुमार (राजनेता) भारत की सोलहवीं लोकसभा में जहानाबाद सांसद थे। 2014 के चुनावों में इन्होंने बिहार की जहानाबाद सीट से राष्ट्रीय लोक समता सेकुलर की ओर से भाग लिया जो एन डी ए की घटक दल थी।अटल बिहारी सरकार मे भी १९९९ _ २००४ तक जहानाबाद सांंसद रहे। सत्रहवीं लोक सभा चुनाव मे जनता दल यूनाईटेड के चंद्रमोहन चंद्रवंशी से पराजित हुए । [1] ये सुप्रसिद्ध शिक्षाविद् हैं।पर्यावरण सुरक्षा को ध्यान मे रखकर बालु माफियाओं के खिलाफ छेडा गया इनका आन्दोलन एक सराहनीय तथा खासा लोकप्रिय कदम था।विकास के नाम पर मगध के प्राकृतिक संसाधनों का अत्यधिक दोहन के कारण मगध क्षेत्र भीषण जलवायु परिवर्तन अनावृष्टि और भीषण पेय जल संकट से जूझ रहा है।जलवायु परिवर्तन पर एन डी ए गठबंधन के नीतिश सरकार के विरोध मे आ गये तथा एन डी ए से अलग हटकर जहानाबाद से चुनाव लडे। इन्होंने भारतीय सबलोग पार्टी का गठन किया है तथा वर्तमान में उस पार्टी के राष्ट्रिय अध्यक्ष हैं ।

अरुण कुमार (राजनेता)

कार्यकाल
2014 से 2019

1999-2004

बिहार विधान परिसद

1993-1999


राष्ट्रीयता भारतीय

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "भारतीय चुनाव आयोग की अधिसूचना, नई दिल्ली" (PDF). मूल से 30 जून 2014 को पुरालेखित (PDF). अभिगमन तिथि 20 जुलाई 2016.