अल्लाह के बन्दे

हिन्दी भाषा में प्रदर्शित चलवित्र

अल्लाह के बन्दे २०१० की एक बॉलीवुड फ़िल्म है।

अल्लाह के बन्दे
अल्लाह के बन्दे.jpg
निर्देशक फ़ारूक कबीर
निर्माता रवि वालिया
लेखक फ़ारूक कबीर
अभिनेता
संगीतकार कैलाश खेर
चिरंतन भट्ट
हमजा फारुकी और गीतकार सरिम मोमिन
छायाकार विशाल सिन्हा
संपादक संदीप फ्रांसिस
वितरक राइजिंग स्टार एंटरटेनमेंट
परसेप्ट पिक्चर कंपनी
प्रदर्शन तिथि(याँ)
  • 26 नवम्बर 2010 (2010-11-26)
देश भारत
भाषा हिन्दी
लागत 5 करोड़[1]

पटकथासंपादित करें

अल्लाह के बन्दे दो १२ वर्ष के बच्चों (विजय और यकुब) की कहानी है जो भारत की कच्ची बस्तियों में बड़े होते हैं। वो दोनों माफिया की दुनिया में अपना नाम बनाना चाहते हैं और मादक पदार्थ पहुँचाने का काम आरम्भ कर देते हैं। उनका दोस्त (ज़ाकिर हुसैन) एक हिंजड़े (नपुंसक) की पोशाक बनाता है और लोगों को लूटते हैं।

कलाकारसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "Allah Ke Banday - Gangster Breakfast!". मूल से १० दिसम्बर २०१२ को पुरालेखित.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें