अल-हीरा (अरबी भाषा: الحيرة‎, अंग्रेज़ी: Al-Hira) मेसोपोटामिया में फ़ुरात नदी के किनारे स्थित एक प्राचीन शहर था। इसके खँडहर अब आधुनिक इराक़ के कूफ़ा शहर से ३ किमी दक्षिण में मिलते हैं। इसकी शुरुआत एक सैनिक छावनी के रूप में हुई थी लेकिन २६६ ईसवी में यह लख़मी राज्य की राजधानी बना।[1]

अल-हीरा
الحيرة‎ / Al-Hira
देशFlag of Iraq.svg इराक़
प्रान्तनजफ़
Hira
al-Ḥīrah الحيرة
Ḥīrtā ܚܝܪܬܐ
अल-हीरा is located in इराक़
अल-हीरा
Shown within Iraq
स्थान इराक़
क्षेत्र नजफ़ प्रान्त
निर्देशांक 31°53′0″N 44°27′0″E / 31.88333°N 44.45000°E / 31.88333; 44.45000निर्देशांक: 31°53′0″N 44°27′0″E / 31.88333°N 44.45000°E / 31.88333; 44.45000

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. The Prophet Muhammad: A Biography, Barnaby Rogerson, pp. 33, Paulist Press, 2003, ISBN 978-1-58768-029-8, ... The Lakhmids had their own capital, the city of al-Hira, which was strategically placed on the junction of the desert ...