इंद्रेश कुमार ,भारत के मुस्लिम राष्ट्रीय मंच नामक राष्ट्रवादी संगठन के मार्गदर्शक है।इनका जन्म १८ फरवरी सं १९४९ में समाना, पंजाब में श्रीमती पदमवती एवं श्री चमन लाल के घर हुआ था [1] । इनके जन्म के लगभग पंद्रह दिन पश्चात उनका परिवार कैथल,हरियाणा में स्थानांतरित हो गया था । इंद्रेश कुमार ने यांत्रिक अभियांत्रिकी की पढ़ाई एवं शिक्षा पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज, चंडीगढ़ से पूर्ण की। अभियांत्रिकी की शिक्षा पूर्ण होने के बाद इंद्रेश कुमार १६ जुलाई १९७० को दिल्ली में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्णकालिक प्रचारक के रूप में शामिल हुए।

प्रारंभिक जीवनसंपादित करें

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच से जुड़ावसंपादित करें

यह मुसलमानों को एक जुट करने मे सफल रहे और उनको कुछ मौलवियो द्वारा चलाया जाने वाला एजेंडा जैसे वंदे मातरम् हराम है इनहोने मुसलमानों को सही रास्ते पर लाने का काज किया है आपितु मुसलमान इन्हें काफ़ी प्यार और सम्मान देते है

प्रमुख कार्यसंपादित करें

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से मुसलमानों को जोड़ने के लिए इंद्रेश कुमार ने २४ दिसंबर २००२ को मुस्लिम राष्ट्रीय मंच [2]नाम का संगठन बनाया। १९७५ के आपातकाल में भूमिगत आंदोलन में भी उन्होंने सक्रिय भूमिका निभाई। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के आनुषांगिक संगठन मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के अलावा वे जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद से विस्थाति कश्मीरियों के पुनर्वास, ग्राम सुरक्षा समितियों के गठन, पूर्व सैनिको के लिए संगठन की स्थापना, हिमालय परिवार की स्थापना, समग्र राष्ट्रीय सुरक्षा मंच, भारत- तिब्बत सहयोग मंच, राष्ट्रीय कवि संगम, अमरनाथ यात्रियों के लिए सरकार से भूमि दिलाने वाले आंदोलन का भी नेतृत्व किया ।

 वाराणसी में सुभाष सेना एवं अनाज बैंक जैसे सामाजिक संगठन इनकी प्रेरणा से संचालित है

उपलब्धियां एवं सम्मानसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. www.facebook.com https://www.facebook.com/pg/indreshkumarofficial/about/?ref=page_internal. गायब अथवा खाली |title= (मदद)
  2. "संग्रहीत प्रति". मूल से 23 अगस्त 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 31 मार्च 2018.